Wednesday, 26th July, 2017
चलते चलते

देश में तेजी से बढ़ रही है सच बोलने वालों की संख्या, सरकार चिंतित

11, Mar 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. वैसे तो भारत की जनसँख्या भी तेज़ी से बढ़ रही है लेकिन एक समस्या पर किसी का ध्यान नहीं जा रहा है। पता चला है कि देश में सच बोलने वालों की संख्या तेज़ी से बढ़ रही है जो चिंता का बड़ा कारण है। हर तबके के लोग सत्यवादी बनने की इस होड़ में शामिल हो गए हैं। जिसे देखो वो सच बोलकर अपना पल्ला झाड़ रहा है, ‘झूठ’ की किसी को चिंता ही नहीं है। झूठ बोलना तो दूर की बात है लोग अब धीरे-धीरे बहाने बनाना भी भूलते जा रहे हैं। इन लोगों की हिम्मत इतनी बढ़ गई है कि कई नेता तो कैमरे के सामने ये कहने लगे हैं कि वे पैसा कमाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं।

सच सुनने पर झगड़ा करते पति पत्नी
सच सुनने पर झगड़ा करते पति पत्नी

वहीँ, जब पत्नी अपने पति से पूछती है कि ‘इतनी रात तक कहाँ थे?’ तो पतिदेव ‘ऑफिस में काम आ गया था’ कहने के बजाय आजकल सच बोलने लगे हैं। वो साफ़-साफ़ बता देते हैं कि ‘दोस्त की पार्टी में गया था।’ वहीँ, जब पति लोग अपनी पत्नी पूछते हैं कि ‘मेरे जेब से पैसे तूने निकाले हैं क्या?’ तो पत्नियाँ भी “हाँ” में जवाब देने लगी हैं। माना जा रहा है कि ‘झूठ’ के इतने बुरे दिन कभी नहीं आए थे।

आनंद विहार में रहने वाले एक बुजुर्ग मोहन लाल जी ने बताया कि “क्या बताऊँ! आज कल के बच्चे ना हाथ से निकल गए हैं। कल मैंने अपने पोते से पूछा- “बेटा! एग्जाम चल रहे हैं, रात को देर तक पढ़ते हो कि नहीं? तो जानते हो उसने क्या जवाब दिया। बोलता है- “नहीं दादाजी! मैं तो जल्दी सो जाता हूँ।” अब बताओ! ये भी कोई औलाद हुई। बूढ़े आदमी का दिल रखने के लिए फ़ेंक देता कि ‘हाँ. मैं तो रात-रात भर पढता हूँ’ तो उसके बाप का क्या जाता?” -कहते हुए वे अपनी छड़ी संभालने लगे।

वहीँ, इस समस्या से केंद्र सरकार भी चिंतित है। संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने एक ट्वीट करके कहा है कि- “ऐसे लोगों को हम जरा भी बर्दाश्त नहीं करेंगे जो थोड़ा सा बहाना भी नहीं बना सकते। हम इनके खिलाफ कठोर कानून बनाएंगे और इन्हें जेल में डालेंगे। साथ ही जो लोग सत्यवादी बनने की राह पर चल पड़े हैं उन्हें मुख्यधारा में वापस लाया जाएगा।” मंत्री जी के इस एलान के बाद देशवासियों ने राहत की सांस ली है। हालाँकि, अब तक ये पता नहीं चल पाया है कि खुद मंत्री जी का ये ट्वीट सच है या झूठ।



ऐसी अन्य ख़बरें