Monday, 24th July, 2017
चलते चलते

पहलाज निहलानी ने कहा ''केवल साइलेंट फ़िल्में बनाएं, कुछ काटने या बीप करने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी''

13, Jul 2017 By banneditqueen

एजेंसी. पहलाज निहलानी का कंट्रोवर्सी से नाता दिया और बाती जैसा है। जब से उनकी नियुक्ती CBFC के चेयरमैन के पद पर हुई है तब से शायद ही कोई मूवी हो जिसपर कंट्रोवर्सी न हुई हो। अब तो आलम ये है कि लोग इंतज़ार करते हैं कि आने वाली मूवी में पहलाज कौनसा सीन क्या कारण देकर कटवा दें और उन्हें जोक बनाने का मौका मिले। अगर कोई मूवी बिना किसी कट के पास हो जाती है तो लोगों आश्चर्य होता है।

क्रोधित होते निहलानी
क्रोधित होते निहलानी

CBFC द्वारा शाहरुख़ खान की बहुचर्चित मूवी ”हैरी मेट सेजल” से इंटरकोर्स बीप करने को कहा गया। कुछ दिनों पहले मधुर भंडारकर की मूवी ”इंदु सरकार” से कुछ डायलॉग हटाने को कहा गया और तकरीबन 14 कट्स की मांग की है। कल अमर्त्य सेन की डॉक्यूमेंटरी ”एन आगुर्मेंटेटिव इंडियन” से सेंसर बोर्ड ने ‘गाय’ समेत चार शब्दों को डॉक्यूमेंट्री से हटाने को कहा है। लगातार ख़बरों में बने रहने से और पत्रकारों के सवालों से परेशान पहलाज निहलानी ने कल ऐसा बयान दिया की फिर बवाल खड़ा हो गया।

पहलाज ने कहा ”मेरी सभी फिल्मकारों से गुज़ारिश है मेरा जीना मुश्किल न करें, आप सभी केवल साइलेंट फ़िल्में बनाएं ताकि न मुझे उनमें सीन काटने के लिए बोलना पड़े ना ही कोई शब्द बीप करने के लिए बोलना पड़े। मैं रोज़ रोज़ के सवाल-जवाब से परेशान हो चुका हूँ। आपको भी फायदा ही होगा डायलॉग नहीं लिखवाने पड़ेंगे और पैसा भी कम खर्चा होगा।” इसके बाद से ही कई फिल्मकारों के रिएक्शन आए, एक फिल्मकार ने कहा ”हम मनमोहन जी के जीवन पर आधारित फ़िल्में बार बार नहीं बना सकते।”



ऐसी अन्य ख़बरें