Tuesday, 24th April, 2018

चलते चलते

NREGA में अब मिलेगी पकौड़े बनाने की ट्रेनिंग, प्रधानमंत्री ने कहा ''खुद ही पैदा करो रोज़गार''

24, Jan 2018 By banneditqueen

एजेंसी. प्रधानमंत्री ने चुनाव प्रचार के दौरान देशवासियों को यह वादा किया था कि वह एक करोड़ लोगों को नौकरी देंगे। हालांकि पिछले दो सालों से आंकड़े कुछ और ही दावा कर रहे हैं। पिछले हफ्ते ज़ी न्यूज़ को दिए गए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने रोज़गार पैदा करने की ऎसी चाभी दे दी जो अब तक देशवासियों के पास थी ही नहीं। मोदी जी ने ऐसा जादू का मंत्र दिया कि देशवासियों को लगा कि यह बात पहले ही पता होती तो क्या बात थी।

रोज़गार प्रदान करते मोदी जी
रोज़गार प्रदान करते मोदी जी

मोदी जी का कहना था कि पकौड़ा बेचने वाला आदमी भी रोज़गार दे रहा है। हालाँकि जब हमने पकोड़े बेचने वालों से पूछा कि वो कितने लोगों को रोज़गार दे रहे हैं तब उनका कहना था कि ”साहिब हमारा अपना खर्चा ही नहीं निकल पाता है दूसरों को कहाँ से रोज़गार देंगे। पीएम साहब को कहो वही 1000-1200 ठेले खोल दें तो बाकी लोगों को रोज़गार मिल जाए।” यह सुनकर श्रम एवं रोजगार मंत्रालय को एक तरकीब सूझी कि क्यूँ न NREGA के तहत बेरोज़गार लोगों को पकौड़े बनाने की ट्रेनिंग और MUDRA के तहत सामान मुफ्त में दिया जाए।

इसके बाद तो जैसे एक ही दिन में रोज़गार के आंकड़े बेहतर हो गए। जैसे ही लोगों को इस स्कीम के बारे में पता चला तो वो सरकारी नौकरी का सपना छोड़ पकौड़े तलने के बारे में सोचने लगे। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक़ तीन दिन में  तकरीबन 40 लाख बेरोज़गार लोगों ने पकौड़े टालने की स्कीम का फायदा उठाया है।



ऐसी अन्य ख़बरें