Sunday, 28th May, 2017
चलते चलते

मोदी जी के वीआईपी राज ख़त्म करने के समर्थन में युवक ने गाड़ी से निकाली ब्रेक वाली लाल बत्ती

21, Apr 2017 By banneditqueen

बनारस. मोदी जी के लाल बत्तियों को हटाने के फैसले से ले से जहाँ एक तरफ नेता दुखी और आम जनता खुश है। मोदी जी चाहते हैं की वीआईपी कल्चर ख़त्म हो और आम जनता भी इसमें है। आम जनता  पहले से ही मोदी जी के काम से काफी खुश है। चाहे स्वच्छ  भारत अभियान हो या जन धन अकॉउंट  फिर डीमोनेटाइज़ेशन  जनता ने हर कदम पर मोदी जी का साथ दिया है।

कोई लाल बत्ती नहीं चलेगी
कोई लाल बत्ती नहीं चलेगी

मोदी जी के परम भक्त सुकेश ने कभी भी मोदी जी की कोई भी रैली नहीं छोड़ी। मोदी जी का कोई भी भाषण हो वो ज़रूर देखता है, मोदी जी जो कहें वो सब ध्यान सुनता है। ना ही कभी मोदी जी के मन की बात सुनना भूलता है। अपने घर के आस पास कचरा भी नहीं रहने देता और हमेशा खाड़ी वस्त्र पहनता है। पुरसो जब मोदी जी ने लाल बत्ती हटाने का आदेश दिया बस तभी वह सोफे से उठा और घर की सारी लाल बत्तियां हटा दी। यहां तक की एक्वागार्ड में लगी लाल बत्ती और मीटर में लगी लाल बत्ती पर भी काला टेप चिपका दिया। उसने जिसके भी घर में जहाँ भी लाल बत्ती देखी वहां जाकर उसे निकाल दिया। फ़ोन की बैटरी काम होने पर भी लाल बत्ती जलती है उस पर भी मार्कर से काला निशान बना दिया।

जैसे ही उसकी नज़र अपनी गाडी पर गई तो उसने देखा कि उसकी गाड़ी में पीछे की लाइट में भी लाल बत्ती है। उसने तुरंत ही वो लाल बत्ती निकाल दी , तभी पडोसी ने आकर उससे कहा ”अरे भाई लाइट ख़राब हो गई क्या? निकाल क्यों रहे हो।” सुकेश ने कहा ”मोदी जी की बात नहीं सुनी क्या उन्होंने कहा है की लाल बत्ती कल्चर ख़तम करना है इसीलिए मैं ये लाल बत्ती निकाल रहा हूँ।” यह सुनते ही पडोसी ने उसके पैर छूए  और घर चला गया।



ऐसी अन्य ख़बरें