Saturday, 18th November, 2017

चलते चलते

लड़कों ने कहा ''अब लड़कियों द्वारा इंस्टेंट फ्रेंडज़ोन करने पर भी रोक लगाए सुप्रीम कोर्ट''

22, Aug 2017 By banneditqueen

एजेंसी. आज सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक़ पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया गया। इस क्रूर प्रथा का अंत करने में सुप्रीम कोर्ट ने पहला कदम बढ़ाया है। इस फैसले के बाद उन सिंगल लड़कों की उम्मीदें जाग गयीं हैं जो हर लड़की से इंस्टेंट फ्रेंडज़ोन हो हो कर थक चुके हैं। लड़कों की मांग है कि मर्दों के प्रति हो रहे इस अत्याचार पर सुप्रीम कोर्ट जल्द से जल्द रोक लगाए।

क्या जल्द से जल्द फैसला करेगा सुप्रीम कोर्ट
क्या जल्द से जल्द फैसला करेगा सुप्रीम कोर्ट

नेशनल कन्धा संघ के चेयरमैन पिंटू सिंह का कहना है कि ”इतने सालों से सुनते आ रहे हैं कि महिलाओं के खिलाफ पुरुष अत्याचार करते आ रहे हैं पर हम पुरुषों के खिलाफ हो रहे अत्याचार का क्या? हर लड़की बात करने से पहले ही हमें इंस्टेंट फ्रेंडज़ोन कर देती है उसका क्या? हमारे खिलाफ अत्याचार अत्याचार नहीं? क्या केवल महिलाओं का ही दर्द दिखता है सरकार को? हमें भी इन्साफ चाहिए! हम चाहते हैं कि लड़कियां हमें बात करते ही फ्रेंडज़ोन न करें, चांस मिलने से पहले ही ख़त्म न हो इसके लिए सरकार कड़े कदम उठाए।”

पिंटू सिंह ने एक PIL दाखिल की है जिसके तहत वे फ्रेंडज़ोन हुए लड़कों को इन्साफ दिलाना चाहते हैं। उनकी मांग है कि मुआवज़े के तौर पर लड़की कम से कम पांच डेट्स पर जाए और भाईजोन करने वाली लड़कियों को डेट्स के पैसे भी खुद ही देने होंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें