Tuesday, 24th October, 2017

चलते चलते

मेडिकल स्टूडेंट के खाने में मिला चूहा, ऑपरेशन करके कर दिया फिर से ज़िन्दा

29, Sep 2017 By Guest Patrakar

एजेंसी. ‘पेट में चूहे दौड़ना’ -ये मुहावरा तो आपने कई बार सुना होगा, मगर हाल ही में कुछ ऐसा हुआ कि लोगों ने एक नया मुहावरा बना दिया- पेट के लिए खाने में चूहे दौड़ाना! मिड डे मील में छिपकली मिलना या कॉफ़ी में कॉक्रोच मिलना तो आम बात हो चुकी है, मगर खाने में चूहा मिलने की ख़बर पर लोग अभी भी यक़ीन नहीं कर रहे हैं। लेकिन बीते दिनों चेन्नई के एक मेडिकल हॉस्टल में जब खाने में चूहा मिला तो वहाँ के स्टूडेंटस ने अपनी नॉलेज के दम पर उसे वापस ज़िंदा कर दिया।

rat in lab1
चूहे को फिर से ज़िंदा करता राघव

यह वाक़या चेन्नई के तिरुविल्लूर में स्थित MG हॉस्टल में पिछले सोमवार की रात का है। जब वहाँ के स्टूडेंट राघव जैन ने अपने खाने से निकले चूहे को ज़िंदा कर दिया। राघव ने बताया, “मैं पिछले पाँच सालों से इस हॉस्टल में MBBS की तैयारी कर रहा हूँ। वैसे तो खाने में कॉकरोच, छिपकली इत्यादि मिलना रोज़ की बात है। पर उस दिन ख़ास यह हुआ कि उस दिन खाने में चूहा मिल गया और उस चूहे में थोड़ी जान भी बाक़ी थी। मैं उसे झट से मेडिकल लैब में ले गया और उसे अपनी पढ़ाई की मदद से बचा लिया।”

ग़ौरतलब बात यह है कि लोग चूहे के वापस ज़िंदा होने से ज़्यादा चूहा मिलने पर आश्चर्यचकित थे। मेयर वेंकट रामानुज ने कहा “मुझे ख़ुशी है कि मेडिकल साइन्स की मदद से उस चूहे को बचा लिया गया मगर खाने में चूहा मिलना दुःख की बात है और इस पर कार्रवाई की जाएगी।” इस पर हॉस्टल के बावर्ची का कहना है कि “लोग बेमतलब में हल्ला मचा रहे हैं, ये सब तो चाइना में आम बात है। हम इंटरनेशनल स्टैंडर्ड मेंटेन कर रहे है। हमें ना सिखाएं!”

बावर्ची को बेशर्म कहना शायद उचित ना हो लेकिन उन्हें आशवादी कहना भी सही नहीं होगा। जिस काम के लिए आपको नियुक्त किया गया है, आप से वो भी ठीक से नहीं हो पा रहा। राघव जैन को ग़नीमत मनानी चाहिए कि खाने में चूहा मिला, बीफ़ नहीं वरना शायद उन्हें चूहे की तरह जान बचाने के लिये इधर-उधर दौड़ना पड़ जाता!

इस बीच, सरकार ने राघव को सम्मानित करने का फ़ैसला लिया है और यह निर्णय भी लिया है कि राघव की हफ़्ते में एक दिन सरकारी स्कूलों में ड्यूटी लगेगी, जहाँ वो मिड-डे मील में मिलने वाले कॉकरोच, छिपकली और मेंढक इत्यादि को बचाने का काम करेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें