Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

मच्छरों से परेशान युवक ने पिस्तौल से की फायरिंग, फिर भी नहीं भागे मच्छर

19, Nov 2017 By Ritesh Sinha

रायपुर. मच्छरों के आतंक ने आज एक भोले-भाले युवक को हथियार उठाने पर मजबूर कर दिया। दरअसल, शुभम भाटी (23) नाम का युवक, बहुत दिन से मच्छरों से परेशान चल रहा था। जैसे ही शाम होती, उसके घर में मच्छर, फैमिली सहित घुस आते थे। मच्छर भगाने के लिए उसने बहुत सारे उपाय किए, कछुआ छाप जलाया, लिक्विड जलाया, दरवाजों पर जाली फिट करवाई, फिर भी कोई फायदा नहीं हुआ।

घर में घुसे मच्छरों पर वार करता युवक
घर में घुसे मच्छरों पर वार करता शुभम

जब सारे हथकंडे नाकाम हो गए तो उसने हथियार उठाने का मन बना लिया। शुभम एक लाइसेंसी पिस्तौल खरीदकर लाया और उसने मच्छरों को निशाना बनाकर दस राउंड फायर कर दिए। लेकिन इससे भी बड़ी दुःख की बात यह है कि इतनी भारी गोलीबारी के बावजूद एक भी मच्छर शहीद नहीं हुआ, और ना ही वो उसका घर छोड़कर भागे।

वैसे, शुभम दिखने में मासूम है और वो हिंसा का ज़रा भी समर्थन नहीं करता। यहाँ तक कि वो नॉनवेज खाने को हाथ तक नहीं लगाता। लेकिन हालात इंसान को कुछ भी करने को मजबूर कर देते हैं और आज उन्हीं हालात ने एक युवक को शार्प-शूटर बना दिया।

फ़ेकिंग न्यूज से बात करते हुए शुभम ने बताया कि “मैं इन नमक हराम मच्छरों से बहुत परेशान हो गया हूँ! एक मिनट भी मुझे चैन से बैठने नहीं देते! शाम को पांच बजते ही खिड़की दरवाजे बंद कर देता हूँ, फिर भी ना जाने कहाँ से चले आते हैं! मच्छर अगरबत्ती जलाओ तो भी कोई असर नहीं होता इन पर! पता नहीं क्या खाते हैं? आखिर में मैंने सोचा कि क्यों ना गोली चलाकर ही देख लिया जाए!”

“लोग कह रहे हैं कि आपका निशाना बहुत कमजोर है?” -ऐसा पूछे जाने पर उसने कहा, “हाँ, ये बात तो सच है! मैंने दस राउंड फायर किए, लेकिन एक भी मच्छर गोली की चपेट में नहीं आया! खैर, कोई बात नहीं, आज शाम को मैं बोहनी जरूर करूँगा!” -कहते हुए वह मैग्जीन निकालकर उसे गमछे से पोंछने लगा।

वहीँ, शुभम के इस कदम से उसके पड़ोसी थर-थर काँप रहे हैं। बगल में रहने वाले जुगनू पाटिल ने बताया कि “देखो भैया! मच्छरों से तो हम भी परेशान हैं, लेकिन इस तरह सरेआम गोलीबारी करना अच्छी बात नहीं है! ये अमेरिका थोड़ी ना है! कहीं उसका निशाना चूक गया तो? हम तो पुलिस को खबर करेंगे भैया!”



ऐसी अन्य ख़बरें