Friday, 20th January, 2017
चलते चलते

ठंड में नहाने के लिये मजबूर करने पर बेटे ने किया माँ पर केस

08, Jan 2017 By Tarun Vyas

जोधपुर. शहर में ठण्ड का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है, मिर्चीबडों की दुकानों पर भीड़ लगी है। घरों में से गाजर और गुड़ की खुशबू आ रही है। दिन भर अपने बाप की गाड़ी लेकर घूमने वाला लोंडा भी अब कम दिखने लग गया है। गलियां सुनसान हैं, सभी अपने अपने घरों में रजाई में छुपे बैठे है।

इस कड़ाके की ठंड में नहाना क्रूरता है
इस कड़ाके की ठंड में नहाना क्रूरता है

इसी बीच एक ऐसी खबर आयी है जो आपको हैरान कर देगी शायद ये किस्सा आपको अगले शनिवार के क्राइम पेट्रोल में देखने को मिल जाये। विकास मौहल्ले में रहने वाले सुरेश मीणा के घर कुछ ऐसी घटना घटी जो आपके दिल को दहला देगी। सुबह का समय था, ठण्ड अपने चरम पर थी तभी सुरेश के घर में उसकी माँ उसे नहाने को बोल दिया। बस यही सुन सुरेश को शक हो जाता है कि एक माँ ऐसा नहीं कर सकती , इतनी सुबह सुबह कोई अपने बेटे को बर्फ के समान ठंडे पानी में नहाने को नहीं कह सकती। इसी शक के आधार पे उसने कोर्ट में अपनी माँ के खिलाफ इरादतन जुखाम और बुखार लगाने का केस दायर किया है। अब देखना ये है कि ऐसी निर्दयी माँ कोर्ट में अपना क्या पक्ष रखती है ! केस की सुनवाई 15 जनवरी को होनी है ।

हमारे पत्रकार ने जब सुरेश से बातचीत करने की कोशिश की तो उसने हमारे पत्रकार से कहा “मुझे गर्व है मैंने अपनी आवाज उठाई, न जाने कितने मासूम अपनी माँ के छलावे में आ कर सुबह सुबह स्नान कर लेते हैं, अगर में ये केस जीतता हूँ तो ये उन हज़ारो लोगो की जीत होगी जो इस यातना को सहन कर रहे हैं।” हमारे पत्रकार द्वारा आगे का क्या प्लान है पूछने पर सुरेश ने कहा ” देखिये मैं सरकार पर भी दबाव बनाऊंगा की एक ऐसा कानून परित किया जाये जिसमे सिर्फ होली-दिवाली के दिन स्नान का प्रवधान हो।” पूरे देश के नौजवानों की नजर 15 जनवरी को होने वाले फैसले पर टिकी है।



ऐसी अन्य ख़बरें