Thursday, 21st September, 2017

चलते चलते

वैलेंटाइन्स डेट ढूँढने के लिये 3 महीने टिंडर पर लगा रहा युवक, हताश होकर अब बजरंग दल से जुड़ेगा

07, Feb 2017 By banneditqueen

दिल्ली. फरवरी का महीना आते ही सिंगल युवकों पर गर्लफ्रेंड बनाने का दबाव बढ़ने लगता है। हर साल यही सोचते हैं कि इस वर्ष गर्लफ्रेंड ज़रूर बनाएँगे पर वह हवा में महल बनाने जैसा होता है। फेसबुक पर लड़कियों के व्हाटसैप नम्बर लेने के एक महीने बाद यह पता चलता है कि लड़की का ब्वायफ्रेंड है या तो वो फ्रेंडज़ोन कर देती है। दिल्ली में रहने वाले प्रीतम पांडे के भी ऐसे हाल हैं।

Hiding Face2
एक भी राइट स्वाइप ना होने से दुखी होता प्रीतम

दिन में हाय हैलो तो बीस लड़कियों से होती है पर कोई इसके प्यार के जाल में नहीं फँसती। प्रीतम ने लड़कियों को इम्प्रेस करने के लिये जिम भी जॉइन किया, रितिक रौशन जैसी बॉडी भी बनाई फिर भी लड़कियों पर कोई असर नहीं पड़ा। आखिरकार तंग आकर प्रीतम ने टिंडर पर अकाउंट बनाया, सोचा यही हाथ आज़मा लूँ। टिंडर पर अकाउंट बनाते ही तकरीबन सौ लड़कियों की प्रोफाइल पर राइट स्वाइप किया।

पिछले तीन महीने से एक भी लड़की से प्रोफाइल मैच नहीं हुआ। प्रीतम ने थक हार कर अपने दोस्त से कहा “हर साल सोचता हूँ इस साल वैलेंटाइन्स डे मनाउँगा। इस बार तो नवम्बर में ही टिंडर डाल लिया था ये सोच के कि चलो कोई तो लड़की मिलेगी। पर इस साल भी नहीं मिली। अब तो मान ही लेता हूँ कि कभी नहीं मिलेगी।” इतना कहते ही वह घर से बाहर निकल गया। दरअसल प्रीतम का प्लान था कि वह बजरंग दल में शामिल होगा। प्रीतम ने सोचा “अगर मुझे गर्लफ्रेंड नहीं मिलेगी तो मैं दूसरों को भी मज़े नहीं करने दूँगा।”

जैसे ही प्रीतम ने बजरंग दल की सदस्यता ले ली तभी उसका फोन बजा और देखा कि आखिरकार उसे मैच मिल गया है। प्रीतम अब तीन दिन से इसी असमंजस में है कि आखिर करे तो करे क्या। प्रीतम का सोचना है कि “अगर किस्मत फिर बेकार रही तो घूम फिर कर बजरंग दल का सदस्य बनना ही पड़ेगा।” प्रीतम अब या तो बजरंग दल में शामिल होकर खुद लोगों को पीटेंगे या फिर टिंडर वाली के साथ डेट पर जाकर खुद पिटेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें