Saturday, 27th May, 2017
चलते चलते

माँ ने कहा 'दिनभर साँड जैसे खाता रहता है', बेटे ने दी जलीकट्टू में जाने की धमकी

21, Jan 2017 By banneditqueen

दिल्ली. जलीकट्टू पर पाबंदी के चलते कई दिनों से हंगामा हो रहा है। लोग हज़ारों की भीड़ में सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर जानवरों के लिये बनाई गई संस्था पीटा जलीकट्टू का विरोध कर रही है। यहाँ तक की रोज़ चिकन,मटन,बीफ खाने लोगों को भी अचानक जानवरों की चिंता सताने लगी है। दसवीं कक्षा में पढ़ने वाला चिंटू समोसा खाते हुए जलीकट्टू की खबर देख रहा था।

टीवी देखता चिंटू
टीवी देखता चिंटू

चिंटू को दो घंटे पहले माँ ने बाहर जाकर सामान खरीद कर लाने को कहा था पर वह उसी पैसे से समोसा, चॉकलेट और पेस्ट्री ले आया। तीन घंटे बाद कपड़े धोकर जब चिंटू की माँ बाहर निकली तो देखा की चिंटू सामान नहीं लाया और टीवी में आँखे गड़ाए बैठा हआ है। माँ ने गुस्से में तमतमाते हुए कहा म तेरी खैर नहीं आने दे पापा को कल ही केबल हटवाती हूँ।दस मिनट के अंदर सारा सामान ले आ वरना आज खाना नहीं मिलेगा।”| चिंटू ने जवाब दिया “पैसे तो दो तभी तो लाउँगा।” माँ ने कहा “कैसे पैसे ? थोड़ी देर पहले ही तीन सौ रुपये दिये थे तुझे कहाँ गायब कर दिये?

उतने में माँ की नज़र टेबल पर रखे समोसे के पैकेट पर पड़ी और वह सारा माजरा समझ गईं। तुरंत झाड़ू लेकर चिंटू के पीछे दौड़ी। “दिनभर सांड की तरह खाता रहता है, दिनभर जुगाली करने के लिये कुछ ना कुछ चाहिए ही” ऐसा बोलते हुए उसे पीटने लगीं। शाम को चिंटू अपना सामान पैक करने लगा। जब मां ने पूछा कि क्यों सामान पैक कर रहा है तो उसने कहा कि “आपने ही कहा मैं साँड हूँ तो मैं जलीकट्टू में हिस्सा लेने जा रहा हूँ।” इतना सुनते ही चिंटू की माँ ज़ोर से हँसने लगी।



ऐसी अन्य ख़बरें