Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

IVR वाली "मैडम जी" के प्यार में हुआ एक मनचला युवक दीवाना, जल्द ही करेगा प्रोपोज़

14, Sep 2015 By Pagla Ghoda

देओरिया, यु पी: एक चौंका देने वाले वाक्या में यु पी के देओरिया ज़िले का नौजवान तुरुक महतो Interactive Voice Response यानी के IVR मशीन वाली आवाज़ से प्यार कर बैठा है| ये IVR मशीन सी. वी. वी. बैंक के कॉल सेंटर में कॉल करने पर रेस्पॉन्ड करती है, जिसमे की महतो का अकाउंट है|

ऑनलाइन इश्क़ से आगे फोनलाइन इश्क़ कर बैठे महतो अपनी लैला से बतीयते हुए
ऑनलाइन इश्क़ से आगे फोनलाइन इश्क़ कर बैठे महतो अपनी लैला से बतीयते हुए

IVR की सच्चाई से अनजान महतो को पक्का यकीन है के टेलीफोन पर बात करने वाली महिला जिन्हे वह प्यार से मैडम जी कहने लगा है, भी उससे बेहद चाहती हैं| मैडम जी के बारे में महतो ने कहा, “मैडम जी को भी मुझसे लगाव तो है, एक दबाता हूँ तो हिंदी में बात करती हैं, और दो दबाता हूँ तो अंग्रेजी में| शर्मीली तो इतनी हैं के आजतक अपना नाम भी नहीं बताया, बस एक मेनू से दुसरे मेनू पे ले जाके हमें तड़पाती रहती हैं| एक बार तो हम गुस्से में कह दिया के एक बार आई लव यू कह दो नहीं तो हम फिर कभी फ़ोन नहीं करेंगे, पर नही मानी| हमसे भी कहाँ रहा गया हमने एक घंटे बाद फिर से फ़ोन कर दिया| लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में ये सब नोक झोक तो चलती ही रहती है| हम तो मैडम जी को जल्दी ही प्रोपोज़ भी करने वाले हैं, और उन्होंने ठीक से जवाब न दिया न तो हम अपनी जान दे देंगे कसम से|”- महतो नें तैश में आकर कहा|

जाने माने मनोवैज्ञानक सुजान भुसावल इसे एक नए तरीके का रोग मान रहे हैं, उन्होंने कहा- “ये लड़का अपने असल जीवन में लड़कियों का साथ और प्यार न मिलने के कारण सभी उमीदें खो बैठा है| IVR मशीन ने उससे कुछ प्यार भरी दो बातें कीं और वह उसी का हो के रह गया| भूल गया के वह एक मृगतृष्णा से प्यार कर रहा है, एक परछाई जो की अस्तित्व में है ही नहीं| प्यार में पागल हो जाने का काफी सटीक उदहारण है ये युवक|”

जहाँ महतो के IVR को लड़की समझ बैठने से महतो के माता पिता काफी परेशान हैं वहीँ सी. वी. वी. बैंक के निदेशक सचिन सचदेवा भी इस मानले को गंभीरता से ले रहे हैं| उन्होंने कहा – “IVR मशीन में कोई चौबीसों घंटे कॉल करके लगा रहे तो हमारी टेक्नोलॉजी की बैंडविड्थ पे असर तो होता ही है| साथ ही महतो की देखा देखी अब कुछ और मनचले जवान भी बार बार हमारी टेलीफोन सेवा पर कॉल करके IVR मशीन से मनगढंत बातें करने में लगे रहते हैं| किसी असली कॉल-सेंटर एजेंट को तो वो ट्रांसफर ही नहीं करते, मेइन मेनू से दुसरे, दूसरे से तीसरे और अगले-पीछे करते हुए कई घंटो लगे रहते हैं|”

सूत्रों के अनुसार महतो और उस जैसे “मैडम जी” के कई दीवानों के लिए बुरी खबर ये है के अब सी. वी. वी. बैंक अपनी IVR टेक्नोलॉजी चेंज करके उसमे एक लड़की के बजाये एक लड़के की आवाज़ डालेगा| साथ ही ये आवाज़ प्यार से बात नहीं करेगी, अपितु कॉल करने वालों को डांट डपट कर उन्हें इनफार्मेशन देगी| विशेषज्ञों के अनुसार ऐसा करने से मनचले लोगों का कॉल करके IVR से घंटों बतियाना कम हो जायेगा|



ऐसी अन्य ख़बरें