Tuesday, 16th January, 2018

चलते चलते

युवक को समझ आ गई एक अंग्रेजी गाने की लिरिक्स, पार्टी देकर खर्च कर दिए दस हजार रूपए

12, Dec 2017 By Ritesh Sinha

भोपाल. कल का दिन प्रतीक गुप्ता के लिए बेहद ख़ुशी का दिन था, उसका कहना है कि वह इस दिन को कभी नहीं भूलेगा। जी नहीं! प्रतीक की ख़ुशी का विराट-अनुष्का की शादी से कोई लेना-देना नहीं है! दरअसल, कल प्रतीक को उस अंग्रेजी गाने की लीरिक्स समझ में आ गई जिसे वो पिछले दो साल से लगातार सुन रहा था। स्पीकर के पास कान टिकाकर सुनने और गूगल ट्रांसलेट की सहायता से उसने यह कारनामा कर दिखाया, अब प्रतीक फूला नहीं समा रहा है।

अगर आपको डेस्पासीतो गाना आता है तो आप कूल हैं
अगर आपको डेस्पासीतो गाना आता है तो आप कूल हैं

इसी ख़ुशी में उसने अपने दोस्तों को पार्टी भी दे दी, जिसमे उसके दस हज़ार रूपए खर्च हो गए। हालाँकि, यह बात अलग है कि इसमें से पांच हज़ार रूपए उधारी के थे, फिर भी प्रतीक को इस उधारी की कोई चिंता नहीं है। उसका मानना है कि हम जैसे लोगों को अंग्रेजी गाने अगर धोखे से भी समझ में आ जाएं तो इतने रूपए जरूर बहा देना चाहिए।

पिछले दो साल से प्रतीक इस गाने की टोह लेने की कोशिश में लगा हुआ था, लेकिन हर बार उसे निराशा ही हाथ लगती थी। बोल तो समझ नहीं आते थे, सिर्फ मेलोडियस धुन की वजह से वह इस गाने को हर रोज़ जरूर सुनता। जैसा कि कहा जाता है कि भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं! यह बात आज फिर साबित हो गई और प्रतीक को यह अंग्रेजी गाना भी समझ आ ही गया।

फेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए प्रतीक ने बताया कि- “मुझे तो अपने आप पर यकीन ही नहीं हो रहा है! इतना टैलेंटेड हूँ मैं! अंग्रेजी समझ नहीं आती थी तो इसी धुन पर मैंने हिंदी का पैरलल गाना बना लिया था! खैर! आज के बाद मैं अंग्रेजी वरशन ही गाऊंगा!”

“अचानक ऐसा क्या हुआ कि आपको गाना समझ आ गया?” ऐसा पूछे जाने पर प्रतींक ने खुलासा किया कि- “मैं गाना चालू करके अपना कान स्पीकर के पास टिका देता था ताकि गाने के बोल साफ़-साफ़ सुनाई दे सके! इस तरह बार-बार रिवाइंड करके मैंने पूरा गाना एक कॉपी में लिख लिया! तभी मुझे पता चला कि मुझे तो अंग्रेजी आती ही नहीं है, सो मुझे गूगल ट्रांसलेट की शरण में जाना पड़ा! यही कोई सात-आठ दिन की मेहनत के बाद कल मुझे पूरा लीरिक्स समझ आ गया!”-प्रतीक ने ठंडी आह भरते हुए कहा।

“अब इतनी बड़ी बात हो गई तो पार्टी तो बनती ही है ना! सो दोस्तों को खिला-पीलाकर राइट कर दिया! वो पांच हज़ार टिंकू मारवाड़ी से उधार लिया है, वो मैं चूका दूंगा तीन-चार महीने में!”-उन्होंने बड़े आत्मविश्वास से बताया। हालाँकि, वो कौन सा गाना था, इसका खुलासा करने से प्रतीक ने साफ़ इनकार कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें