Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

दिनभर फेसबुक पर ऑनलाइन रहने वाले 'UPSC Aspirant' को मिलेगा वीरता पुरस्कार

08, Jan 2018 By banneditqueen

पटना. सरकारी नौकरी का सपना तो भारत में कई छात्रों का होता है। पर कुछ ही छात्र हैं जो इस सपने को पूरा करने के लिए सारी ज़िन्दगी निकाल देते हैं। अगर आयु सीमा 30 वर्ष है या 35 वर्ष है तो वो तब तक परीक्षा देते रहते हैं और उम्मीद नहीं छोड़ते। पटना में रहने वाले विकास सिंह का भी सपना था कि वो UPSC की परीक्षा दें और सरकारी नौकरी पाएं।

ऑनलाइन बैठा विकास
ऑनलाइन बैठा विकास

विकास पिछले कई वर्षों से UPSC की तैयारी कर रहे हैं और बड़े शान से फेसबुक पे खुद को ”UPSC Aspirant” बताते हैं। विकास का लगभग पूरा समय फेसबुक पर लड़कियों को रिक्वेस्ट भेजने में जाता है। जब भी कोई लड़की उससे पूछती कि वो क्या कर रहा है तो वो यही बोलता कि ”मैं UPSC एस्पिरैंट हूँ, अभी प्री की तैयारी कर रहा हूँ।” यह सुनते ही वो लड़कियां जो खुद UPSC का सपना लेकर बैठी हैं वो भी उससे सलाह मशिवरा करने लग जाती। विकास पिछले छह सालों से UPSC की परीक्षा दे रहे है।

विकास की इस लगन को UPSC बोर्ड ने भी पहचाना और सराहा। उसके UPSC की तैयारी करते हुए दिनभर ऑनलाइन रहने को साहसिक कार्य बताया। बोर्ड ने फैसला लिया है कि विकास को इस वर्ष 26 जनवरी को वीरता पुरस्कार दिया जाएगा। विकास इस बात को जानकर बेहद खुश है, उसका कहना है कि ”मैं तो बस UPSC की पढ़ाई कर रहा हूँ बोलकर लड़कियों से बात कर लेता था। अब मैं 30 वर्ष की उम्र तक यह परीक्षा दूंगा। किसी साल प्री क्लीयर हो गया तो Bio में ”Appeared for mains” लिख दूंगा।



ऐसी अन्य ख़बरें