Wednesday, 26th April, 2017
चलते चलते

केंद्र पचास हज़ार करोड़ की योजनाओं की घोषणा करेगा तो सपा दोगुने की घोषणा करेगी: अखिलेश

29, Dec 2016 By Pagla Ghoda

बलिया, यूपी. यूनाइटेड नेशन्स की एक स्टडी के अनुसार भारत में केवल एक वर्ष में हुई चुनावी घोषणाओं की कुल योजना राशि को अगर मिला दिया जाए तो ये आंकड़ा पूरी दुनिया के सभी देशों की कुल जीडीपी का भी छह गुना होगा। इसी तर्ज पर चलते हुए केंद्र सरकार और यूपी की सपा सरकार ने हाल ही में उत्तर प्रदेश के विकास के लिए कई हज़ार लाख करोड़ रुपयों की योजनाओं की घोषणाएं कर दी है।

akhilesh8
फ्री में लैपटॉप बांटते अखिलेश यादव

एक चुनावी रैली को हेलीकॉप्टर द्वारा संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, “अगर केंद्र पचास हज़ार करोड़ की योजनाओं की घोषणा करेगा तो हम उसका दोगुना यानी कि पच्चीस हज़ार करोड़ की योजनाओं की घोषणा करेंगे।” तभी पीछे से किसी ने कहा- “सीएम साब, पचास का डबल पच्चीस नहीं, एक लाख होता है”, तो उन्होंने बात को लपेटते हुए कहा- “मेरा मतलब हम एक लाख करोड़ की घोषणाएं करेंगे। केंद्र ये ना समझे कि विकास के दावे सिर्फ वो ही कर सकता है, दावे करने में हम भी मोदी जी से कम नहीं हैं। वो गीत चल रहा है ना आजकल, “तू कहे तो जाँ भी दे दूँ, कहने में हर्ज़ क्या है…।”

बाद में थोड़ा और गणित बिठाकर अखिलेश फिर गरजे, “एक लाख करोड़ का मतलब समझते हैं आप, इसका मतलब कि हर रोज़ हम लगभग तीन सौ करोड़ की घोषणाएं करेंगे। इतनी घोषणाएं तो कसम से आज तक पूरी दुनिया में किसी ने नहीं की होंगी। ये घोषणाओं का एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड है भाइयों, जो कि हमारी पार्टी की प्रगतिशील मानसकिता को दर्शाता है।”

कुछ और ऐसे ज़ोरदार आंकड़े देने के बाद अखिलेश बैठ गए और सपा के एक और वरिष्ठ रिश्तेदार नेता श्री शिवपाल यादव जी ने माइक संभाल लिया। परंतु उनके माइक सँभालते ही अचानक माइक खराब हो गया और उनके और अखिलेश के बीच तू-तू मैं-मैं होने लगी। वहां मौजूद पूरी भीड़ अचानक ही अखिलेश और शिवपाल समर्थकों में बंट गयी और जो लोग अभी तक मिल कर नारे लगा रहे थे उन्होंने एक दूसरे पर तलवार, सरिया, दरांती, पेट्रोल बम इत्यादि सब निकाल कर साध लिया। नेता जी मुलायम सिंह जी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करवाने के बाद ही जैसे-तैसे मामला शांत हुआ और रैली में आये सभी लोगों को दाल-भात देकर विदा किया गया। जाते-जाते अखिलेश जी ने ये भी कह दिया कि कुछ ही दिनों में रैली में आये लोगों को इससे भी बढ़िया क्वालिटी का दाल-भात परोसा जायेगा, जिसके लिए बयालीस हज़ार करोड़ रुपयों की एक और योजना की घोषणा जल्द ही की जाएगी।



ऐसी अन्य ख़बरें