Wednesday, 26th July, 2017
चलते चलते

लो जी, अब केजरीवाल ने ख़ुद ही अपने एक विधायक को बाहर कर दिया

24, Sep 2016 By Chandra Prakash

नयी दिल्ली. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने एक विधायक को कल बड़े अजीब ढंग से पार्टी से बाहर कर दिया। दरअसल पिछले दिनों इस विधायक के घर पर एक महिला अपने किसी काम के सिलसिले में आई थी। विधायक ने महिला के साथ कोई छेड़खानी नहीं की और चुपचाप उसका काम कर दिया। इतना ही नहीं, महिला से मिलने के 10 दिन बीत जाने के बाद भी विधायक की कोई ऑडिया/वीडियो सीडी भी सामने नहीं आयी।

Kejriwal
“निकालो इसे बाहर..पिछवाड़े पे लात मार के”

इस घटना का खुलासा होते ही पार्टी में कोहराम मच गया। कई वॉलंटियर्स इसे पार्टी के आदर्शों का उल्लंघन मानते हुए पार्टी छोड़ने की धमकी देने लगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉक्टर कुमार विश्वास ने इस घटना पर एक कविता लिखने का भी ऐलान कर दिया। मामला बढ़ता देख केजरीवाल हरकत में आ गये। उन्होंने तुरंत इस घटना की ‘अंदरूनी जांच’ के आदेश दे दिए।

जांच में इस बात की पुष्टि हुई कि महिला अपने काम के लिए विधायक के दफ्तर में आयी थी। वहां पर उसे ना तो अकेले में मिलने को कहा गया और ना ही उससे किसी तरह की मारपीट हुई। इस पूरे वाकये की सीसीटीवी तस्वीर भी मिल गई है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज दोपहर में इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और माना कि पार्टी में कुछ ‘साफ मछलियां’ भी घुस गई हैं। उन्होंने कहा कि “इस विधायक ने ना सिर्फ मेरे साथ बल्कि पूरे अन्ना आंदोलन के साथ धोखा किया है।” हालांकि उन्होंने परंपरागत रूप से इस घटना की ज़िम्मेदारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी डाली है। मोदी जी की इसमें क्या साज़िश है, इसके लिये वो दो दिन बाद एक और प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

उधर, विधायक ने अपनी सफाई में कहा है कि मेरे ऊपर लगे सारे आरोप बेबुनियाद हैं और यह विरोधियों की साजिश है। विधायक ने यह भी कहा है कि उसे फलां जाति का होने की वजह से निशाना बनाया गया है। विधायक ने माना कि उसने छेड़खानी नहीं की, लेकिन उसकी दलील है कि वो ज्यादा लंबे प्रोग्राम की तैयारी में था। हालांकि आम आदमी पार्टी ने विधायक की इन सारी दलीलों को खारिज कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें