Wednesday, 22nd February, 2017
चलते चलते

समाजवादी पार्टी का नेता सस्पेंड, स्कॉर्पियो के बजाय ऑल्टो में चलता पकड़ा गया

20, Nov 2014 By बगुला भगत

लखनऊ. समाजवादी पार्टी ने आज अपने एक निगम पार्षद को ऑल्टो कार की वजह से पार्टी से निष्कासित कर दिया। इस नेता पर आरोप है कि वह समाजवादी युवजन सभा की बैठक में स्कॉर्पियो के बजाय ऑल्टो कार से आया था।

Netajii
नेताजी, कैसे कैसे नेता भर लिये हैं आपने पार्टी में!

हाल ही में फिर से सपा में भर्ती हुए अमर सिंह ने इस नेता के ‘असमाजवादी’ आचरण की भर्त्सना करते हुई कहा कि “इस नेता का आचरण हमारी समाजवादी परंपरा के बिल्कुल उलट है, जिससे पार्टी की छवि को गहरा धक्का लगा है। जो भी नेता ऐसी कार-गुज़ारी करता पकड़ा गया, उसे इसी तरह धक्के मारकर पार्टी से बाहर कर दिया जायेगा।”

इस अवसर पर मौजूद वरिष्ठ समाजवादी नेता नरेश अग्रवाल ने भी अपनी नाराज़गी जताते हुए कहा कि “इससे तो अच्छा था कि वो ऑटो पकड़कर आ जाता और थोड़ी दूर उतरकर मीटिंग में पैदल पहुंच जाता, तो उसकी ये घटिया हरकत छुपी तो रह जाती।”

गुटखा-खैनी के मिश्रण को मुंह में डालते हुए उन्होंने कहा, “वो कोई नया नेता तो है नहीं, उसे पार्षद बने दो साल से ज्यादा हो चुके हैं, इतने टाइम में तो हमारा बंदा दस स्कॉर्पियो ले लेता है।” अपने विशालकाय होंठो पर लगी खैनी को पोंछते हुए वो आगे बोले, “असल में वो नेता नहीं, नेता के नाम पर कलंक है!”

इसके बाद श्री अग्रवाल ने पत्रकारों को वे तस्वीरें दिखायीं, जिनमें वो ‘तथाकथित’ नेता ऑल्टो में बैठा नज़र आ रहा है। तस्वीरें बांटने के बाद वो बोले, “अगर हम ऐसी नॉन-समाजवादी गाड़ियों में चलने लगेंगे, तो कौन हमारी इज़्ज़त करेगा! यहां तो पब्लिक बात-बात पर गाड़ी को घेर लेती है। स्कॉर्पियो के डर से वो सामने से हट तो जाती है।”

उधर, कांग्रेस समेत सभी दलों ने इस घटना की एक स्वर में निंदा की है, जबकि राजनाथ सिंह ने ‘कड़ी निंदा’ की है। सभी पार्टियों ने अपने नेताओं को ऐसे ‘ऑल्टो-कांड’ से बचने की सलाह दी है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने आज के दिन को भारतीय राजनीति पर काला धब्बा बताया है।



ऐसी अन्य ख़बरें