Tuesday, 25th July, 2017
चलते चलते

नवरात्रि के दिन कटहल खा रहे युवक को शिवसेना ने पीटा, ग्रेवी देख सोचा नॉनवेज है

29, Mar 2017 By banneditqueen

गुरूग्राम. शिवसेना ने नवरात्रि के दिनों में मीट की बिक्री होने पर ऐतराज़ जताया है। यही नहीं माँग यह भी की जा रही है कि मंगलवार के दिन सभी मीट शॉप्स और नॉन वेज रेस्टॉरंट बंद होने चाहिये। अचानक जागे इस शाकाहार प्रेम के चलते शिवसैनिकों ने दिन भर हंगामा किया। नॉनवेज तो नॉनवेज, शिवसैनिकों ने तो शाकाहारी भोजन खा रहे एक व्यक्ति को भी लपेट लिया।

कटहल - शाकाहारियों का मीट
कटहल – शाकाहारियों का मीट

गुरुग्राम में लगभग 500 दुकानों को बंद कराने के बाद शिवसेना के लोग एक शाकाहारी ढाबे पर पहुँचे। खाना खाकर जैसे ही शिवसैनिक बाहर निकले तभी उनकी नज़र एक ड्राइवर की थाली पर पड़ी। ड्राइवर की थाली में रखी करी को देख एक शिवसैनिक को उस पर शक हुआ। जैसे ही उसने बाकी शिवसैनिकों को बताया कि शायद ड्राइवर कोई नॉन-वेज चीज़ खा रहा है, तो सभी उस ड्राइवर पर टूट पड़े। ड्राइवर चीखता रहा ”आखिर हुआ क्या है वो तो बताओ, क्यों मार रहे हो मुझे? अरे कोई तो बताओ आखिर मेरी गलती क्या है?” जब शिवसैनिक उसे मारते मारते थक गए तब जाकर रुके। ड्राइवर को बचाने आए लोगों ने भी पूछा कि आखिर शिवसैनिक ड्राइवर की पिटाई क्यों कर रहे हैं?

तब जाकर एक शिवसैनिक ने कहा कि ”शर्म नहीं आती नवरात्रि के दिन माँस खा रहे हो, वो भी शाकाहारी होटल में बैठ के!” तभी भीड़ में खड़े एक आदमी ने ड्राइवर की प्लेट उठाकर चेक किया तो देखा कि वह मीट नहीं कटहल खा रहा था। इस पर ढाबा चलाने वाले गुरजोत ने सफाई दी ”सर जी हम कटहल में मीट मसाला डालते हैं इसीलिए ऐसा लग रहा होगा कि यह मीट है।” इस सफाई के बाद जाकर मामला शांत हुआ।



ऐसी अन्य ख़बरें