Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

बीजेपी की जीत में 'चुटकी भर' योगदान विजय रूपाणी का भी है, अमित शाह का खुलासा

19, Dec 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. दो राज्यों में मिली जीत के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में मीडिया को संबोधित कर रहे थे, जहाँ उन्होंने खुलासा किया कि गुजरात की जीत में ‘चुटकी भर’ योगदान विजय रूपाणी का भी है। दरअसल, इससे पहले मीडिया में यह खबर आई थी कि गुजरात के वर्तमान मुख्यमंत्री रूपाणी जी का योगदान 1.10% ही है। लेकिन शाह ने स्पष्ट किया कि “यह सरासर झूठ है! उनका इस जीत में योगदान 1.10% नहीं बल्कि 1.20% है।”

Shah- Vijay Rupani
चुटकी के लिये रूपाणी को शाबासी देते शाह जी

जब उनसे कहा गया कि “हाथ से इशारा करके बताइए ना कि उनका योगदान कितना था?” तो उन्होंने चुटकी दिखाते हुए कहा कि “ये देखिए! इतना सारा! चुटकी भर! मित्रों!..और सबसे बड़ी ख़ुशी की बात ये है कि रूपाणी जी को बहुत से लोग पहचानते भी हैं!” -शाह ने ज़रूरत से ज़्यादा मुस्कुराते हुए कहा। इसके बाद वो दो घंटे तक मोदीजी को इस जीत का श्रेय देते हुए बोलते रहे।

गौरतलब है कि गुजरात और हिमाचल प्रदेश में मिली जीत का सारा श्रेय अभी तक मोदी और शाह की जोड़ी को ही दिया जा रहा था, लेकिन शाह जी के इस एलान के बाद लोग इसमें थोड़ा सा योगदान रुपाणी जी का भी मानने पर मजबूर हो गये हैं।

उधर, शाह जी के इस एलान के बाद रुपाणी जी के घर बधाई देने वालों का ताँता लग गया। मिठाइयाँ बँटने लगीं, आनन-फानन में बैंड वालों को भी बुला लिया गया और उन्हें कोई भी लेटेस्ट धुन बजाने के लिए फ़ोर्स किया गया।

इसी प्रेस-कांफ्रेंस में फ़ेकिंग न्यूज़ के बड़बोले पत्रकार ने शाह जी से मणिशंकर अय्यर के योगदान के बारे में भी पूछ लिया। लेकिन उन्होंने इसका जवाब देने से साफ़ इनकार कर दिया।

इस बीच, कांग्रेस पार्टी के एक बड़े नेता ने इस हार का श्रेय अपने कंधों पर ले लिया है। उनका कहना है कि “इस हार में राहुल जी का चुटकी भर भी योगदान ‘नहीं’ है, सारा किया-धरा मेरा है!” हालाँकि, यह बात बाद में पता चली कि जिस नेता ने हार का ठीकरा अपने सर फोड़ा है, वो गुजरात कभी गए ही नहीं हैं!



ऐसी अन्य ख़बरें