Wednesday, 22nd November, 2017

चलते चलते

"अध्यक्ष बनते ही राहुल जी ऑटोमेटिकली 'युवा' से 'वरिष्ठ' भी बन जाएंगे"- सूजेवाला

21, Aug 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. कांग्रेस पार्टी ने एलान किया है कि जिस दिन राहुल गांधी उपाध्यक्ष से पार्टी के अध्यक्ष बन जाएंगे, तो ऑटोमेटिकली उनका एक और प्रमोशन हो जायेगा। पार्टी के मुताबिक, अध्यक्ष बनते ही राहुल जी ‘युवा नेता’ से प्रमोट होकर ‘वरिष्ठ नेता’ बन जाएंगे।

Rahul Gandhi
वरिष्ठ बनने पर कांग्रेस के नेताओं को आशीर्वाद देते राहुल जी

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सी सूजेवाला ने पार्टी के इस फ़ैसले की जानकारी देते हुए बताया कि “हमारा दिल तो नहीं चाहता कि वो कभी ‘वरिष्ठ’ बनें। लेकिन होनी को कौन टाल सकता है! हमारी पार्टी के संविधान में लिखा हुआ है कि पार्टी का अध्यक्ष कोई ‘वरिष्ठ’ और ‘मैच्योर’ नेता ही बन सकता है। इसलिये मजबूरी में हमें उन्हें ‘वरिष्ठ’ घोषित करना ही पडे़गा।”

“तो क्या जब तक राहुल जी अध्यक्ष नहीं बन जाते, तब तक वो युवा ही रहेंगे?” इसके जवाब में सूजेवाला ने हैरानी जताते हुए कहा कि  “और नहीं तो क्या! और वैसे भी अभी उनकी उम्र ही क्या है, सिर्फ़ 47 के ही तो हुए हैं। शाहरुख़ और सलमान भी उनसे 4 साल बड़े हैं और लोग उन्हें भी अभी युवा ही समझते हैं।”

“वैसे भी, राहुल जी की त्वचा से उनकी उम्र का पता ही नहीं चलता! देखने में मैं भी उनसे बड़ा लगता हूँ।” -सूजेवाला ने शर्माते हुए कहा। जब हमारे रिपोर्टर ने उन्हें याद दिलाया कि “आप सचमुच उनसे बड़े हैं!” तो वो झेंपते हुए बोले, “राहुल जी से बड़ा तो कोई हो ही नहीं सकता! मेरा मतलब…रेपुटेशन और रैंकिंग में!”

इस बीच, कांग्रेस के सूत्रों से एक अंदर की बात पता चली है। वो ये कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल को पार्टी का अध्यक्ष बनाने के लिये तैयार तो हो गयी हैं। लेकिन इसके लिये उन्होंने एक शर्त रख दी है। उन्होंने कहा है कि “अध्यक्ष बनने से पहले राहुल को कम से कम एक चुनाव में बीजेपी को हराना होगा।”

इस शर्त को सुनकर पार्टी में मातम छा गया है। पार्टी के ज़्यादातर नेताओं को लग रहा है कि फिर तो शायद राहुल जी ‘चिर-युवा’ की तरह ‘चिर-उपाध्यक्ष’ ही रह जाएंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें