Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

अध्यक्ष पद के लिए अकेले चुनाव लड़ेंगे राहुल गाँधी, पार्टी ने जताया जीत का भरोसा

20, Nov 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. राहुल गाँधी को अध्यक्ष बनाने के लिए अगले महीने कांग्रेस पार्टी में चुनाव होने वाले हैं, माना जा रहा है कि इस चुनाव में राहुल अकेले ही अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल होंगे और जीत जाएँगे। लेकिन इसी बीच एक बवाल हो गया है। कांग्रेस पार्टी के ही कुछ छोटे नेताओं ने आशंका व्यक्त की है कि राहुल जी अकेले चुनाव लड़कर भी हार सकते हैं, क्योंकि उन्हें जीतने का कोई ख़ास अनुभव नहीं है। इन नेताओं की मांग है कि राहुल जी को चुनाव में खड़ा करने से पहले अच्छे से ट्रेनिंग दी जाए।

Rahul Gandhi president
अध्यक्ष बनने की रिहर्सल करते राहुल गांधी

इन्हीं में से एक छुटभैये नेता ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “देखो भैया! हम तो छोटे-मोटे कार्यकर्ता हैं पार्टी के, हमारी कौन सुनता है? फिर भी हम एक बात कहना चाहते हैं! हमें लगता है कि वो अकेले खड़े होकर भी चुनाव हार जाएँगे! उनके साथ कुछ भी हो सकता है! इसलिए हम सोनिया मैडम से रिक्वेस्ट करते हैं कि पहले बचुआ को अच्छे से ट्रेनिंग दे दो, फिर चुनाव करा लीजिएगा! घर की ही तो बात है, जब चाहे अध्यक्ष बना लेना!”

“जब से उपाध्यक्ष बने हैं, एक भी चुनाव में अच्छे नंबर नहीं लाए हैं! तभी तो अकेले खड़े कराना पड़ रहा है! पिछला रिकॉर्ड देखता हूँ तो मुझे तो ऐसा लगता है कि बाबा इस बार भी….।” -कहते हुए वो फफक पड़े।

अपनी ही पार्टी के छुटभैये नेताओं के ऐसे बयानों को बड़े नेताओं ने खारिज किया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि “देखिए! ऐसा बिल्कुल नहीं होगा! हम पहले ही इस इस बारे में एक्सपर्ट्स से राय ले चुके हैं, उनका भी कहना है कि जिस चुनाव में सिर्फ एक कैंडिडेट होता है, उसमें वही जीतता है! इसलिए घबराने की कोई बात नहीं है! आदरणीय राहुल जी एक योद्धा हैं और वो समस्त बुराइयों को हराकर इस महायुद्ध में विजय हासिल करेंगे!”

वहीं, इस ख़बर के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमित शाह को फोन किया है। मोदी जी ने शाह को बधाई देते हुए कहा कि “चलो! आपका काम आसान हो गया! बधाई हो!” इस पर अमित शाह ने कहा कि, “आपका काम भी तो आसान हो गया!” और दोनों फोन पर ज़ोर-ज़ोर से हँसने लगे।



ऐसी अन्य ख़बरें