Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

कांग्रेस में बग़ावतः राहुल के कुत्ते 'पीडी' ने भी भर दिया अध्यक्ष पद के लिए नामांकन

05, Dec 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. इसे कहते हैं घर का ‘पीडी’ लंका ढाये! राहुल गांधी के निर्विरोध कांग्रेस अध्यक्ष बनने की राह में उनके अपने ही एक वफ़ादार ने रोड़े बिछा दिये है। गुप्त सूत्रों के हवाले से ख़बरें आ रही हैं कि राहुल के लिये ट्वीट करने वाले कुत्ते पीडी ने भी पार्टी का अध्यक्ष बनने के लिये नामांकन दाख़िल कर दिया है।

rahul gandhi pidi1
राहुल गांधी के सामने खड़ा पिद्दी सा पीडी

हालांकि कांग्रेस पार्टी के लोग इस ख़बर को दबा रहे हैं। वे सबको यही बता रहे हैं कि अकेले राहुल जी ने ही अध्यक्ष पद के लिये पर्चा भरा है। उन्हें डर सता रहा है कि अगर दुनिया को पता चल गया कि अध्यक्ष बनने के लिये राहुल जी का मुक़ाबला एक कुत्ते से है, तो उनकी क्या इज़्ज़त रह जायेगी!

वैसे, राहुल जी का जीतना पक्का माना जा रहा है लेकिन पीडी के पर्चा भरने के बाद अब उनका चुनाव निर्विरोध नहीं हो पायेगा। दो उम्मीदवार होने की वजह से वोटिंग तो करानी ही पड़ेगी। और अगर वोटिंग में पीडी को दस वोट भी मिल गये तो इसका मतलब होगा कि दस लोग राहुल जी के मुक़ाबले कुत्ते को पसंद करते हैं।

इसी वजह से कांग्रेस के कई सीनियर नेता पीडी को समझाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि वो किसी तरह नामांकन वापस ले लें और इस शर्मिंदगी से बचा जा सके। पीडी को मनाने के इस मिशन में उन नेताओं को लगाया गया है, जिनमें पीडी जैसे गुण हैं और जो पीडी की भाषा समझ लेते हैं।

बताया जा रहा है कि पीडी काफ़ी समय से राहुल जी से नाराज़ चल रहे हैं और दोनों के रिश्ते अब उतने मधुर नहीं रहे हैं। वो अक्सर जानबूझकर ग़लत ट्वीट कर देते हैं, जिसकी वजह से लोग राहुल जी को ट्विटर पर रगड़-रगड़कर धोते हैं। यानि कुत्ते की करनी, राहुल जी को भरनी पड़ती है। पीडी ने नेताओं जैसी हरकत कर के सारी दुनिया के कुत्तों को शर्मिंदा कर दिया। अब लोग कुत्तों के लिये भी यही कहेंगे कि ‘जिस थाली में खाया, उसी में छेद कर दिया!’

उधर, कुछ कांग्रेसी नेता ख़ुद को पीडी से भी गया-गुज़रा मान रहे हैं और यह सोचकर शर्मिंदा हो रहे हैं कि एक असली कुत्ते ने आलाकमान की चापलूसी छोड़ने की हिम्मत दिखा दी!



ऐसी अन्य ख़बरें