Tuesday, 24th October, 2017

चलते चलते

सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत अकेले में दिखाने को राज़ी हुए मोदी, अब केजरीवाल कर रहे हैं आनाकानी

04, Oct 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उस समय पूरी दुनिया को चौंका दिया, जब उन्होंने अचानक सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत दिखाने की अरविंद केजरीवाल की मांग मान ली। लेकिन इसके लिये उन्होंने एक शर्त रखी है कि वो केजरीवाल को स्ट्राइक का सबूत अकेले में दिखायेंगे।

Kejri ji-3
“आप कैमरा छुपा के ले जाओ और सबूत की रिकॉर्डिंग कर लो”

सबूत दिखाने के इस ऑफ़र से केजरीवाल हैरान रह गये क्योंकि उन्हें उम्मीद नहीं थी कि मोदी सबूत दिखाने के लिये अचानक इस तरह तैयार हो जायेंगे। इस बदले हालात पर विचार-विमर्श करने के लिये केजरीवाल ने सुबह आनन-फानन में ‘आप’ के वरिष्ठ नेताओं की बैठक बुलायी, जिसमें कुछ का कहना था कि केजरीवाल को जाकर सबूत देख लेना चाहिये, जबकि कुछ सदस्यों को इसमें मोदी की कोई चाल नज़र आ रही थी और वो फूंक-फूंककर क़दम रखने की सलाह दे रहे थे।

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कहना था कि “अरविंद भाई, आपने अपनी ज़िंदगी में इतनी सारी रिकॉर्डिंग देखी हैं। तो इस रिकॉर्डिंग से क्या घबराना! आप जाओ और छुपे हुए कैमरे से उस रिकॉर्डिंग की रिकॉर्डिंग करके ले आओ!” डॉ कुमार विश्वास ने कहा कि “पहले मोहल्ला-सभाओं की राय पूछ लेते हैं भाईसाब। जैसा जनता-जनार्दन कहे, फिर वैसा ही करो!”

जबकि आशुतोष का कहना था कि “नहीं अरविंद भाई, आप अकेले मत जाओ! मोदी का कोई भरोसा नहीं, पता नहीं अकेले में क्या दिखा दे! चार-पांच लोगों को साथ लेकर जाओ।” आशुतोष वाली ये बात केजरीवाल को जम गयी। उन्होंने तुरंत एक नया ट्वीट किया कि “मोदी जी, सबूत देखते टाइम मेरे साथ मेरे चार बंदे और रहेंगे। मंजूर है तो बोलो! मैं शाम को ही आपके घर पहुंच जाता हूं। जय हिंद!”

अंतिम समाचार लिखे जाने तक केजरीवाल की इस नयी मांग पर प्रधानमंत्री की ओर से कोई जवाब नहीं आया था। उधर, केजरीवाल अपने विधायक का एक पुराना वीडियो देखकर टाइम पास कर रहे थे, जबकि अन्य सदस्य उनके नये वीडियो संदेश की शूटिंग की तैयारी कर रहे थे।



ऐसी अन्य ख़बरें