Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

कल नहीं मरा RSS का एक भी कार्यकर्ता, CPIM कार्यकारिणी के सदस्य नाराज़

28, Nov 2017 By banneditqueen

केरल. पिछले वर्ष से चले आ रहे RSS हटाओ आंदोलन के तहत लगभग हर हफ्ते ही RSS के कार्यकर्ता या तो अपनी जान गँवा बैठते हैं या अपने शरीर का कोई हिस्सा। यहाँ तक की केवल कार्यकर्ता ही नहीं उनके बच्चे बीवी भी इसके लपेटे में आ जाते हैं। या कभी RSS और CPIM के बीच मुठभेड़ में कार्यकर्ता मारे जाते हैं। पर इस मुहिम के चलने के बाद भी कल काफी दिनों बाद RSS के बचे हुए कोई भी कार्यकर्ता न तो हताहत हुआ न ही मारा गया।

RSS -CPIM कार्यकर्ताओं की मौत पर बैठक करते गीताराम येचुरी और लाजनाथ सिंह
RSS -CPIM कार्यकर्ताओं की मौत पर बैठक करते गीताराम येचुरी और लाजनाथ सिंह

जब यह खबर CPIM के आलाकमान तक पहुंची तब वे काफी नाराज़ नज़र आए। CPIM प्रमुख गीताराम येचुरी ने आपातकालीन बैठक बुलाकर हालात का जायज़ा लिया। उन्होंने कहा कि ” मेरे फेल्लो कामरेड्स! ये बेहद दुःख की बात है कि हम अभी तक RSS का सफाया नहीं कर पाए हैं। हमने शुरू से ही इस बात पर काफी ज़ोर दिया है की RSS और उससे जुडी सभी राष्ट्रवादी ताकतों का देश से सफाया होना चाहिए तभी इस देश का कुछ भला हो सकता है।”

इसके बाद CPIM के एक कार्यकर्ता ने जानकारी दी कि ”कल ही एक RSS कार्यकर्ता पर तलवार से हमला किया था, हमने सीधे गले पर वार किया पर उसने खुद को बचाने के लिए हाथ से तलवार पकड़ लिया जिसके चलते उसकी जान बच गई और केवल हाथ ही कट पाया। हम आगे से इस बात रखेंगे कि ऐसा न हो।”



ऐसी अन्य ख़बरें