Sunday, 19th February, 2017
चलते चलते

नोटबंदी पर संसद मे बोलेंगे राहुल गाँधी, NDRF की टीमें हुईं तैनात

11, Dec 2016 By bapuji

नई दिल्ली. कांग्रेस के भावी अध्यक्ष राहुल गाँधी ने आरोप लगाया है कि सरकार नोटबंदी पर उन्हें संसद में बोलने नहीं दे रही है। लेकिन पार्टी के अत्यंत ख़ुफ़िया और भेदिया सूत्रों से मालूम चला है कि इस बयान की आड़ में राहुल ने अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल को निशाने पर लिया है। जिन्होंने कई दिनों से नोट बंदी वाले भाषण की पर्ची को अपनी बनियान के पॉकेट में छुपा रखा है। राहुल के बयान के बाद कपिल सिब्बल को जमकर डाँट पड़ी और अब वो पर्ची राहुल को दे दी गयी है।

NDRF
संसद परिसर में एनडीआरएफ के जवान

पर्ची मिलने से उत्साहित राहुल ने कह दिया कि “जब मैं नोट बंदी पर बोलूंगा तो भूकंप आ जाएगा!” उनके इस बयान को सुनकर संसदीय कार्य मंत्री और लोकसभा स्पीकर के हाथ पांव फूल गये। उन्होंने गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी से रिक्वेस्ट की कि इस आपदा से बचने का कोई इंतज़ाम करें। राजनाथ ने मामले की गंभीरता को देखते हुए संसद परिसर में तुरंत NDRF की टीमें तैनात करने के आदेश दे दिये।

NDRF के महानिदेशक ने फ़ेकिंग न्यूज़ से बातचीत करते हुए कहा कि “संसद की इमारत काफ़ी पुरानी है और जर्जर हालत में है, ऐसे में अगर राहुल के बयान से रिक्टर स्केल पर 4 तीव्रता का भूकंप भी आ गया तो भारी नुकसान हो सकता है। और अगर कहीं 5 वाला आ गया तो मलबा गिरने से बहुत सारे सांसदों के सर फूट सकते हैं।”

आने वाली आपदा को देखते हुए केंद्र सरकार ने कल रात ही संसद की इमारत को मजबूत करने का काम शुरू करा दिया है। इमारत के खंभों पर विराट कम्प्रेस्सिव स्ट्रेन्थ वाला अंबुजा सीमेंट लगाया जा रहा है तो वहीं कुछ कमजोर जगहों पर प्रसिद्ध पेंटर केशव कुट्टी से पेंट से पहले पुट्टी भी लगवाई जा रही है। जाहिर है कि नोटबंदी पर चारों तरफ से घिरी सरकार कोई भी ख़तरा नही मोल लेना चाहती।

इन सारी तैयारियों के बावजूद अनेक सांसद डरे हुए नज़र आ रहे हैं। पता चला है कि आधे से ज़्यादा सांसद राहुल के बयान वाले दिन बीमारी का बहाना बनाकर छुट्टी लेने की फिराक मे हैं और स्पीकर के पास सिक लीव की एप्लीकेशन जमा कर दी है। ख़बर है कि ख़ुद प्रधानमंत्री भी डरे हुए हैं और सुरक्षा कारणों से उस दिन संसद मे मौजूद नही रहेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें