Monday, 18th December, 2017

चलते चलते

केजरीवाल ने जारी की उन MLAs की लिस्ट, जिनकी पूरी जाँच हो चुकी है पर भविष्य में फँसाये जा सकते हैं

15, Sep 2016 By Pagla Ghoda

नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी के सबसे कर्मठ नेता और देश के जाने माने अभिनेता श्री अरविन्द केजरीवाल जी ने सभी मीडिया घरानों की प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर एक नयी लिस्ट जारी कर दी है। उनके अनुसार इस लिस्ट में उन सभी MLAs के नाम हैं जिनकी कि आम आदमी पार्टी पूरी जांच कर चुकी है लेकिन भविष्य में अगर वे पकड़े गए तो पार्टी जिम्मेवार नहीं होगी चूंकि उन्हें ज़रूर ही फंसाया गया होगा।

Kejri Ad1
“हमारे दस MLA और फंसाये जा सकते हैं इस हफ़्ते”

जंतर मंतर पर एक रैली को संबोधित करते हुए सर केजरी गरजते हुए बोले, “आज की डेट में, मीडिया के द*** से और LG के ठु*** से मैं ये कह देना चाहता हूँ कि आम आदमी पार्टी का एक एक मेंबर खरा हीरा है, जिन्हें हमने जौहरियों की तरह जांच परख कर अपनी पार्टी में रखा है। आशुतोष जी भले ही हीरा ना हों पर वो भी किसी ‘प्लैटिनम की प्लेट’ से कम नहीं हैं। तो आज ये लिस्ट जारी करके मैं फिर से बता रहा हूं कि हमारे सभी मेंबर पूरी जांच के बाद ही पार्टी में रखे गए हैं। तो अगर फ्यूचर में कभी वो पकड़े जाते हैं, तो आम आदमी पार्टी ज़िम्मेवार नहीं हैं क्योंकि ये बात सब लोग नोट कर लो कि हमारे लोगों को झूठ-मूठ फंसाया जा रहा है। मीडिया, मोदी और यहाँ तक कि ओबामा भी खुद इस साज़िश के पीछे हैं। और एक और बात बोलूं? हँसना मत कोई भी! मुझे लगता है कि कुछ एलियंस का भी इस साज़िश में काफी बड़ा हाथ है। हो ये रहा है कि दूसरे ग्रहों पर भी दिल्ली में हो रहे चमत्कारों के चर्चे पहुँच रहे हैं। तो वहां भी जो मोदी के चेले हैं उनसे भी ये बातें बर्दाश्त नहीं हो रहीं। यही तो पूरा स्कैम है जी!”

एक गिलास लस्सी पीकर केजरीवाल जी आगे बोले, “और एक बात नोट की आप लोगो ने? हमारे अच्छे कामों की तारीफ कोई नहीं कर रहा। अगर हमारा कोई MLA गलत काम करे तो हम उसे आधे घंटे में निकाल देते हैं, ये कोई नहीं देख रहा। कोई और पार्टी करती है ऐसा? अभी हाल ही में हमारे एक MLA ने हमारी पार्टी में चल रहे यौन शोषण की बात उठाई, तो हमने उसे काफी गंभीरता से लिया। यौन शोषण तो बहुत गन्दी बात है जी! ऐसी गन्दी बातें उठाने वालों के लिए पार्टी में कोई जगह नहीं। इसलिए हमने उसी MLA को तुरंत निकाल बाहर कर दिया। इतना फ़ास्ट एक्शन कोई लेता है क्या?”

इस रैली के तुरंत बाद आप के कार्यकर्ताओं ने सभी लोगों को काजू बादाम वाले पुलाव के साथ घीया का रायता परोसना शुरू किया। एक कार्यकर्ता ने अकेले ही रायते का भरा डोल उठाने की कोशिश की तो उसका बैलेंस बिगड़ गया और रायता चारों और फैलने लगा। उस कार्यकर्ता को डांट पड़ ही रही थी कि केजरीवाल जी चुपचाप उसके पास पहुंचे और उसे गले से लगा लिया। केजरीवाल जी की आँखें नम थीं। उन्होंने कहा, “शर्मिंदा मत हो मेरे दोस्त, रायता ही तो था? फ़ैल गया। ज़िन्दगी में रायता फैलाने के लिए कभी भी शर्मिंदा मत होना, ना ही किसी से माफ़ी माँगना।” तालियों की गड़गड़ाहट से पूरी रैली गूँज उठी।



ऐसी अन्य ख़बरें