Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

अरविंद ने कहा ''मैंने बिजली/पानी का बिल कम किया, क्या लोग मेरे वकील का बिल नहीं दे सकते?''

05, Apr 2017 By banneditqueen

एजेंसी. जैसे ही यह खबर सामने आई कि केजरीवाल के खिलाफ चल रहे केस में उनके वकील जेठमलानी की फीस की भरपाई सरकारी ख़ज़ाने से की जा रही है तो चारों तरफ खलबली मच गई। कई नेताओं ने तो यहाँ तक कह दिया कि केस अरविंद पर नहीं उनके आदर्शों पर है इसी के चलते फीस की भरपाई उनके आदर्शों को  मानने वालों को करना चाहिए। यह सब जानकर विपक्ष की बाँछे खिल जो कि खामखाँ अरविंद केजरीवाल की सरकार के पीछे हाथ धो कर पड़ा होता है। मामला बढ़ता हुआ देख केजरीवाल जी ने सफाई देने के लिए मीडिया से बातचीत की।

चार करोड़ का बिल कैसे देगा आम आदमी
चार करोड़ का बिल कैसे देगा आम आदमी

उन्होंने कहा कि ”तीन दिन से आप देख लीजिए, तीन दिन से! ट्विटर पर मेरे द्वारा दिल्ली के लोगों का जो बिजली-पानी का बिल माफ हुआ है उसकी चर्चाएँ चल रही हैं। सब इसी बात की तारीफ कर रहे है कि किस तरह पुरानी सरकार में उनका बिल ज्यादा आता था और अब कम आता है। बस इन लोगों से यही बात बर्दाश्त नहीं हुई, मोदी जी पंजाब में हुई हार से इतना डरे हुए हैं कि उन्हें कुछ सूझ नहीं रहा। ईवीएम की जाँच होने के बाद हम ही हर जगह की सरकार बनाएँगे, बस इसी बात से बौखला गए हैं ये लोग। और कह रहे हैं जी कि जनता का पैसा खा गए जी। कहाँ से खा लिया जी जनता का पैसा? अरे अगर उनका करोड़ों का बिल माफ किया तो क्या जनता मेरे वकील का बिल नहीं भर सकती? जेटली जी भी मुझसे डर गए हैं।”

बताया यह भी जा रहा है कि योगी जी के आने के बाद केजरीवाल मीडिया की लाइमलाइट में नहीं थे इसी कारण उन्होंने इस खबर से विवाद में वापसी की कोशिश की है। बीजेपी नेता संबित पात्रा ने कहा ”देखिए अरविंद जी जब चुनाव लड़ने आए थे तब उन्होंने कहा था कि एक भिखारी ने उन्हें पैसा दिया। तो अगर वो अपनी फीस जनता के पैसे से भर रहे हैं तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं।”



ऐसी अन्य ख़बरें