Sunday, 19th November, 2017

चलते चलते

भाजपा और कांग्रेस के बीच शुरू होगी रो-रो फेरी सर्विस, पाटीदार नेताओं में ख़ुशी की लहर

24, Oct 2017 By Ritesh Sinha

गांधीनगर/नयी दिल्ली. इस बार गुजरात के चुनाव में पाटीदार नेता सुबह भाजपा के साथ होते हैं, तो शाम को राहुल गाँधी के साथ मंच साझा करते हैं। अगले दिन फिर से यही नेता भाजपा को समर्थन का एलान कर देते हैं। सूचना मिली है कि इन्हें जल्दी-जल्दी पार्टी बदलने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने कांग्रेस और भाजपा के बीच रो-रो फेरी सर्विस शुरू करने का एलान किया है।

rahul-hardik647_102417060951यह रो-रो फेरी सर्विस दिन-रात काम करेगी और अपना पाला बदलने वाले नेताओं को उसके मंजिल तक पहुंचाकर ही छोड़ेगी। अगर आपको पार्टी चेंज करना है तो सिर्फ एक मिसकॉल दीजिए, बाकि का काम सारा काम चुनाव आयोग खुद करेगी।

मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार जोति ने इस फैसले के बारे में बताया कि, “प्रदेश में निष्पक्ष चुनाव करवाना हमारी जिम्मेदारी है, और इसके लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं! हर राज्य में चुनाव के दौरान नेतागण अपना पाला बदलते रहते हैं, इसमें कोई नई बात नहीं है, लेकिन गुजरात के पाटीदार नेताओं को कुछ विशेष परेशानी हो रही हैं! भाजपा से कांग्रेस में जाने में, और कांग्रेस से वापस भाजपा में आने में ये लोग आठ-आठ घंटे का समय ले रहे हैं, जो अच्छी बात नहीं है! इसीलिए इनका समय बचाने के लिए हमने भाजपा और कांग्रेस के बीच रो-रो फेरी सर्विस शुरू करने का फैसला किया है!”

“इस सर्विस में क्या-क्या सुविधाएं होंगी?”-ऐसा पूछे जाने पर जोति जी ने आगे बताया कि, “देखिए! सबसे बड़ा फायदा तो ये है कि समय बचेगा! आठ घंटे का काम, एक घंटे में ही निपट जाएगा! दूसरा फायदा ये है कि हम चुनाव आयोग की ओर से इन सबको तीन-चार बड़े बैग, केलकुलेटर, नोट गिनने की मशीन और मुंह छुपाने के लिए गमछा (ताकि सीसीटीवी में फोटू ना आए) फ्री में देंगे! ये सब सुविधाएं मिलने के बाद मुझे लगता है कि पार्टी बदलने की घटनाओं में जरूर तेज़ी आएगी!”-जोति जी ने बड़े आत्मविश्वास से कहा।

उधर, पाटीदार नेता इस रो-रो फेरी सर्विस का लाभ उठाने के लिए बेकरार हैं। ऐसे ही अनामत आंदोलन के एक नेता हार्पिक पटेल ने बताया कि, “अब तो मैं किसी भी दल में एक घंटे से ज्यादा रहूँगा ही नहीं! बल्कि मैं तो “एक्सपैंशन प्रोजेक्ट” पर ध्यान दे रहा हूँ! समाजवादी पार्टी और आप पार्टी भी मेरे राडार पर आ गए हैं! एक-दो घंटे मैं वहां भी गुजार सकता हूँ!”



ऐसी अन्य ख़बरें