Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

मणिशंकर के घर मिठाई का डिब्बा देकर निकल रहे बीजेपी कार्यकर्ता सीसीटीवी में क़ैद

18, Dec 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. कांग्रेस के अभूतपूर्व नेता मणिशंकर अय्यर और बीजेपी के बीच अंदरखाने साँठ-गाँठ है, यह बात आज एक बार फिर साबित हो गयी। गुजरात चुनाव का रिजल्ट आने के थोड़ी देर बाद, बीजेपी के कार्यकर्ता मणिशंकर के घर मिठाई का डिब्बा पहुँचाते देखे गये हैं। यह पूरा लेन-देन सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गया है। हालांकि, बीजेपी इस ख़बर से ना तो इनकार कर रही है और ना ही पुष्टि!

Mani-Shankar-Aiyar1
मिठाई पाकर ख़ुश नज़र आ रहे मणिशंकर जी

सैनिक फ़ार्म स्थित मणिशंकर के बंगले के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में चार-पाँच भगवा गमछाधारी लोग पिछले दरवाज़े से बंगले में घुसते और थोड़ी देर बाद वहाँ से निकलते दिखाई दे रहे हैं। घुसते समय उनके हाथों में बीकानेरवाला का एक बड़ा सा डिब्बा दिख रहा है, जबकि लौटते समय उनके हाथ खाली हैं। हालांकि, अय्यर ऐसा कोई भी डिब्बा मिलने से साफ़ इनकार कर रहे हैं। पहले तो उन्होंने संवाददाताओं को आठ-दस गालियाँ खिलाईं, फिर उन्हें चैलेंज करते हुए बोले, “अगर मेरे घर में एक भी मिठाई का डिब्बा निकल जाये तो आज के बाद गाली देना छोड़ दूँगा! क़सम खा के कहता हूँ!”

कहने वाले तो यहाँ तक भी कह रहे हैं कि रिजल्ट आने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने बधाई देने के लिये सबसे पहला फ़ोन मणिशंकर को ही किया था। दोनों के बीच लगभग आधे घंटे तक हँसी-ठट्ठा होता रहा। फ़ोन रखने से पहले मोदी जी ने उनसे प्रॉमिस लिया कि “मणिभाई, 2019 में भी आपको इसी तरह मदद करनी है। दो-चार अच्छी सी गाली बचा के रखना!”

उधर, डिब्बे वाली ख़बर फैलते ही कांग्रेस ने मणिशंकर को दोबारा सस्पेंड कर दिया है। वैसे, वो दस दिन पहले ही पहली बार सस्पेंड किये गये थे। क़ानून के जानकारों का मानना है कि एक ही जुर्म के लिये इंसान को दो बार सज़ा नहीं दी जा सकती। जबकि भुनभुनाये कांग्रेसियों का कहना है कि “इस ‘नीच कांड’ के लिये तो हम उन्हें हर महीने सस्पेंड करेंगे!”



ऐसी अन्य ख़बरें