Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

अवार्ड वापसी गैंग ने मांगे अपने अवार्ड वापस, कहा ''नीतीश अपने धोखे की भरपाई करें''

27, Jul 2017 By banneditqueen

बिहार. वो दौर याद करें जब पूरे देश में असहिष्णुता की चर्चा थी, अवार्ड पर अवार्ड वापस किए जा रहे थे। सबने अवार्ड वापस किए पर किसी ने साथ मिली नकद राशि वापस नहीं की। ये सब हुआ ठीक बिहार चुनाव के पहले, अब अवार्ड वापसी गैंग फिर से देश को राजनीतिक असहिष्णुता से बचाने आई है।

ये कहाँ आ गए हम, अवार्ड वापस करते करते
ये कहाँ आ गए हम, अवार्ड वापस करते करते

प्रख्यात लेखिका नयनतारा सहगल ने आज #GiveMyAwardBack नामक कैम्पेन लॉन्च किया। नयनतारा ने कहा ”हमने इतनी मेहनत की, जगह जगह जाकर ड्रामे किए। अवार्ड वापस किए, मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ जगह जगह जाकर बयान दिए, इनटॉलेरेंस मार्च भी किया। जब लोगों ने कश्मीरी पंडितों और 1984 में मारे गए सिखों के बारे में पूछा तो उन्हें हिंदूवादी बोल कर चुप करा दिया, केवल इसीलिए ताकि बिहार में भाजपा की सरकार न बने। पर नीतीश कुमार ने धोखा दे दिया। माना कि तेजस्वी ने बचपने में 2-4 बार भ्रष्टाचार तो इसका मतलब ये तो नहीं कि वो भाजपा के साथ सरकार बना लें, हमें हमारे अवार्ड वापस चाहिए।”

इसके अलावा कई साहित्य अकादमी पुरूस्कार जीतने वालों ने भी अपने अवार्ड वापस मांगे। एक कवि ने नाम ना बताने की शर्त पे कहा ”देखिये इतने सालों तक इतनी उम्दा शायरी करने के बाद जाकर कांग्रेस की सरकार ने अवार्ड दिया था। वो भी दबाव में वापस करना पड़ गया और जिस काम के लिए किया था वो अब अधूरा रह गया है। भाजपा सरकार तो कोई अवार्ड देने से रही, कम से कम वही पुराना वाला लौटा दें।” ऐसा कहते हुए उन्होंने अपनी कविता सुनाई – ”रोज़ेज़ आर रेड स्काई इज़ ब्लू, मोदी जी आई डोंट लाइक यू।”



ऐसी अन्य ख़बरें