Wednesday, 26th July, 2017
चलते चलते

कैसे बीता श्री अरविंद केजरीवाल जी का 13 अप्रैल 2017 का दिन, पेश है पूरा ब्यौराः

14, Apr 2017 By GADHEKI DUM

वॉशिंगटन/नयी दिल्ली. ईवीएम हैक करने की तकनीक सीखने आनन-फानन में अमरीका पहुंचे विश्वप्रसिद्ध निष्पाप और ईमानदार मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल जी का कल का दिन बड़ा दुख भरा रहा। वजह, अमेरिका के सभी वैज्ञानिकों और हैकरों ने ईवीएम हैक करने से इनकार कर दिया। किसी मोदी भक्त ने केजरीवाल जी के जले पर नमक रगड़ने के लिए उनको सलाह दी थी कि “अमरीका जाकर एक बार ट्रम्प से मिल लो, वो भी ईवीएम हैक करके ही राष्ट्रपति बना है।”

Kejriwal5
राजौरी गार्डन की ख़बर सुनने के बाद केजरीवाल जी

उत्साह-उत्साह में केजरी बाबू सुबह-सवेरे व्हाइट हाउस पहुंच गये। वहाँ सिक्योरिटी वालों ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया। उन्होंने गार्ड को दो हजार का नोट पकड़ाया और ट्रम्प को दवाई देने के बहाने (जिसे वो मोहल्ला क्लिनिक से लेकर गये थे) अंदर पहुंच गये। उन्हें देखते ही ट्रम्प बोले, “अरे भैय्या, मुझे पुतिन ने जितवाया है। दुनिया के सबसे बड़े हैकर रशिया और चाइना में हैं। यहाँ टाइम ख़राब करने से कोई फ़ायदा नहीं! रशिया जा!”

रशिया पहुँचते ही वहाँ भी दो हजार के नोट और दवाई के जरिये केजरी बाबू पुतिन तक पहुंचे। पुतिन बोले, “यह सच है कि ट्रम्प को मैंने जितवाया, लेकिन अमेरिका में ईवीएम से नहीं, बैलेट पेपर से चुनाव होते हैं। तेरा GK इतना कमजोर कैसे है भाई? हमारे देश में किसी को भी ईवीएम हैक करना नहीं आता। वैसे भी, हम इन छोटी-मोटी हैकिंग में अपना टाइम बर्बाद नहीं करते। इसलिये ईवीएम को भूल जा और जाकर काम कर, फिर पब्लिक खुद तेरे को वोट देगी। जा भाई अब!”

उदास चेहरा लेकर केजरी भारत लौटने के लिए फ्लाइट में बैठने ही वाले थे कि मनीष सिसोदिया का फोन आ गया। मरी हुई आवाज़ में सिसोदिया ने कहा “अरविंद भाई जल्दी लौटो, राजौरी गार्डन में अपने बंदे की ज़मानत ज़ब्त हो गयी है। और दूसरा, एलजी ने आपकी इस विदेश यात्रा का बिल पास करने से इनकार कर दिया है। अब MCD चुनाव में क्या होगा, बड़ी टेंशन हो रही है। आप जल्दी आ जाओ!” फ़ोन सुनकर केजरीवाल जी एयरोप्लेन की सीढ़ी पर ही बैठ गये। तो, ऐसा बीता उनका 13 अप्रैल का दिन!



ऐसी अन्य ख़बरें