Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

'गुजरात में बहुमत मिल गया है'- इस पे ध्यान दिए बगैर कांग्रेसी विधायकों से 'सेटिंग' कर रहे थे शाह जी

22, Dec 2017 By बगुला भगत

अहमदाबाद. अगर कोई आदत एक बार लग जाये तो वो आसानी से नहीं छूटती, चाहे इंसान लाख कोशिश कर ले! बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है। दूसरी पार्टियों के विधायकों को अपने पाले में करने की उनकी ऐसी आदत है, जिसे वो चाहकर भी नहीं छोड़ पा रहे हैं। इसी आदत के चलते शाह जी ने गुजरात में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस के दस-बारह विधायकों से सेटिंग कर ली।

Shah-Cong MLAs
“ये मैंने क्या कर दिया!”

उन्हें यह ध्यान ही नहीं रहा कि गुजरात में ऑलरेडी उन्हें मेजोरिटी मिल गयी है और उन्हें दूसरी पार्टियों के विधायकों को खरीदने तोड़ने की ज़रूरत नहीं है! वो तो जब उनकी पार्टी के एक नेता ने उन्हें बताया कि “ये क्या कर रहे हो मोटाभाई? हमें तो ऑलरेडी बहुमत मिल गया है, हमें अब तोड़-फोड़ करने की ज़रूरत नहीं है!”, तब कहीं शाह जी का ध्यान इस बात पर गया।

“ये बात पहले नहीं बता सकते थे!” -यह कहकर शाह जी सर पकड़ कर बैठ गये। फिर कैलकुलेटर पर कुछ हिसाब लगाते हुए बोले, “मैं भी कहूँ कि वे साले इतनी आसानी से कैसे मान गये!” इस पर नेताजी ने हैरानी से कहा, “आपको तब भी समझ में नहीं आया, जब कांग्रेस उन्हें किसी रिसॉर्ट में लेकर नहीं गयी?” “नहीं रे बाबा!” -शाह जी बड़बड़ाये।

इसके बाद शाह जी अपना वो ‘सामान’ वापस माँगने के लिये उन विधायकों को फ़ोन मिलाने लगे, जो उन्होंने उन्हें दे दिया है। लेकिन कोई विधायक फ़ोन नहीं उठा रहा है तो किसी का फ़ोन स्विच्ड ऑफ़ आ रहा है। इस पर शाह जी ग़ुस्से में मोबाइल पटकते हुए बोले, “ये कांग्रेस वाले हैं। अगर एक बार ‘माल’ अंटी में आ जाये तो वापस नहीं करते!”



ऐसी अन्य ख़बरें