Saturday, 23rd September, 2017

चलते चलते

इस बार ग़लती से एक गधे को बीजेपी में शामिल कर बैठे शाह जी, बाद में वापस निकाला

07, Aug 2017 By बगुला भगत

लखनऊ. अमित शाह एक-एक कर सभी पार्टियों के नेताओं को बीजेपी में शामिल करते जा रहे हैं। इस वजह से बीजेपी में अपनी पार्टी के मूल नेता कम रह गये हैं और बाहर से आये हुए नेता ज़्यादा हो गये हैं। हालत ये हो गयी है कि अगर कोई आधी रात को भी उन्हें फ़ोन करके कहता है कि “मुझे बीजेपी ज़्वॉइन करनी है”, तो शाह जी रात को ही गुलदस्ता लेकर उसके घर पहुँच जाते हैं।

BJP-Donkey
बीजेपी ज्वॉइन करने वाला गधा

लेकिन इस बार उनसे एक बड़ी चूक हो गयी। दो दिन पहले वो ग़लती से एक गधे को बीजेपी में शामिल कर बैठे। इस कांड का पता चलते ही राजनाथ सिंह ने तुरंत शाह जी को फ़ोन किया और कहा, “ये क्या कर दिया अध्यक्ष साब! अब गधों को भी शामिल करने लगे पार्टी में?” तो शाह जी ने समझा कि वो शायद बुक्कल नवाब की बात कर रहे हैं। लेकिन जब राजनाथ जी ने उन्हें बताया कि “आपने इस बार सचमुच के गधे को शामिल कर लिया है! जो ढेंचू-ढेंचू करता है!”

यह सुनकर शाह जी सन्न रह गये। वो दौड़कर पार्टी मुख्यालय पहुँचे तो देखा कि लॉन में सचमुच का गधा लोट मार रहा है। उन्होंने तुरंत लात मारकर उसे बाहर निकाला और पार्टी पदाधिकारियों को ख़ूब ख़री-खोटी सुनाई। उन बेचारों की हिम्मत नहीं हुई जो शाह जी से ये कह सकें कि ये सब तो आप ही का किया धरा है!

बाद में एक पदाधिकारी ने सारा क़िस्सा सुनाया। हुआ यूँ कि दो दिन पहले ‘पांडे जी’ नाम के किसी बंदे ने उन्हें फ़ोन किया और कहा कि “शाह जी, एक बहुत बड़े नेता हैं, जो बीजेपी ज़्वॉइन करना चाहते हैं।”, तो शाह जी ने पूछा कि “नाम क्या है?” पांडे जी ने कहा- “डंकेश्वर सिंह (Donkey), ये किसी भी ज़िम्मेदारी का बोझ उठाने को हमेशा तैयार रहते हैं। जहाँ एक बार खड़े हो जाते हैं, वहाँ से आसानी से नहीं हिलते, दो-दो दिन तक वहीं जमकर खड़े रहते हैं! देश में इनकी आबादी भी बहुत ज़्यादा है।”

इतना सुनते ही शाह जी ने कहा कि “उन्हें ससम्मान पार्टी दफ़्तर लेकर पहुँचो! हम गाजे-बाजे के साथ उन्हें बीजेपी में शामिल करेंगे।” फिर पार्टी के ऑफ़िस में फ़ोन लगाकर कहा कि “डंकेश्वर जी आ रहे हैं, उन्हें तुरंत पार्टी ज्वॉइन कराओ! हम भी पहुँच रहे हैं थोड़ी देर में!”

उधर, जब नेताओं ने देखा कि कोई गधा आया है, तो वे दंग रह गये। लेकिन शाह जी का हुक़्म टालने की हिम्मत बीजेपी में किसी में नहीं है! सो, उन्होंने भी गधे को पार्टी ज्वॉइन करा दी। तुरंत न्यूज़ चैनलों पर यह ख़बर चलने लगी कि ‘एक गधा बीजेपी में शामिल!’ तो जी, इस तरह किसी पांडे जी ने शाह जी को इस तरह चूना लगा दिया।



ऐसी अन्य ख़बरें