Wednesday, 22nd November, 2017

चलते चलते

"भगवान कृष्ण को आज से हम भगवान कृष्ण यादव कहेंगे" -अखिलेश का एलान

14, Nov 2017 By बगुला भगत

सैफ़ई. हमारे देश के नेताओं की मेहरबानी से अब भगवान भी जातियों में बँटने लगे हैं। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एलान किया है कि “आज से हम सब लोग भगवान कृष्ण को भगवान कृष्ण यादव (BKY) कहेंगे!” उनके इस एलान से यूपी में धर्म की राजनीति ने एक नया मोड़ ले लिया है।

Lord-Krishna-Akhilesh
भगवान का नया नामकरण करते अखिलेश यादव

अखिलेश अपने पैतृक गाँव सैफ़ई में बन रही भगवान कृष्ण की 50 फुट ऊँची प्रतिमा का मुआयना करने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि “जब सारी दुनिया जानती है कि भगवान कृष्ण जाति से यादव थे तो फिर उन्हें यादव कहने में किसी को क्या प्रॉब्लम है?”

“और मैं पूछना चाहता हूँ योगी जी से और मोदी जी से कि उन्हें कभी भगवान कृष्ण का मंदिर या स्टेच्यू बनाने का ख़्याल क्यों नहीं आया? क्या इसलिये कि वो यादव हैं?”

“राम और कृष्ण दोनों ही बराबर के भगवान हैं। तो जब हमें भगवान राम से कोई प्रॉब्लम नहीं है तो फिर बीजेपी वालों को कृष्णजी से प्रॉब्लम क्यूँ है? सारी दुनिया के कृष्ण-भक्त आज ये जानना चाहते हैं।” -अखिलेश ने कुर्ते की बाजू चढ़ाते हुए कहा।

इस एलान के साथ ही अखिलेश ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सीधे-सीधे चुनौती दे डाली है, जो अयोध्या में भगवान राम का 100 मीटर ऊँचा स्टेच्यू बनाने की योजना बना रहे हैं। योगी जी अभी योजना ही बना रहे हैं और इधर अखिलेश ने मूर्ति भी बना डाली।

उनकी इस रणनीति से बीजेपी हक्की-बक्की है। राजनीतिक पंडितों के अनुसार, बीजेपी अगले चुनावों में भी भगवान राम के भरोसे रहेगी, ऐसे में अगर फ़ोकस कृष्णजी पर चला गया तो उसे काफ़ी नुकसान हो सकता है। इसलिये, बीजेपी को फिलहाल समझ नहीं आ रहा है कि वो क्या करे!

इस बीच, प्रोग्राम में आये सपा कार्यकर्ता अपनी पॉलिटिकल स्टाइल में नारे लगाने लगे- “भगवान कृष्ण यादव अमर रहें…”, “हमारा भगवान कैसा हो, कृष्ण यादव जैसा हो!”



ऐसी अन्य ख़बरें