Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

अम्मा का आशीर्वाद लेने यमलोक जाएगा दिनाकरन गुट का विधायक, पनीरसेल्वम गुट वाले भी तैयार

29, Sep 2017 By बगुला भगत

चेन्नई. एआईएडीएमके के दोनों गुटों में ख़ुद को अम्मा का असली उत्तराधिकारी साबित करने की होड़ मची हुई है। इस होड़ ने कल उस समय एक नया मोड़ ले लिया, जब दिनाकरन गुट के एक विधायक ने एलान कर दिया कि वो अम्मा का आशीर्वाद लेने यमलोक जाएगा। उसके एलान से पूरे तमिलनाडु में हड़कंप मच गया। थोड़ी ही देर में पनीरसेल्वम गुट के भी दो विधायकों ने एलान कर दिया कि वे उससे पहले यमलोक जाएंगे।

AIADMK
अम्मा का आशीर्वाद ही सबकुछ है

दिनाकरन ने यमलोक जाने वाले इस विधायक की आरती उतारते हुए कहा कि “आज अगर अम्मा यहाँ होतीं तो इलेक्शन कमीशन को बता देतीं कि वो किसके साथ हैं। लेकिन वो तो अब इधर हैं नहीं, इसलिये हमारा ये भाई ऊपर जा रहा है। ये प्रूफ़ के तौर पे अम्मा के साथ सेल्फ़ी भी ले के आयेगा। फिर हम प्रूव कर देगा कि अम्मा का आशीर्वाद हमारे ही साथ है।”

ग़ौरतलब है कि पनीर-पलानीसामी और दिनाकरन गुट के बीच पार्टी और उसके चुनाव चिन्ह को लेकर लड़ाई हो रही है, जिस पर चुनाव आयोग में 6 अक्टूबर को सुनवाई होने वाली है। पार्टी और ‘दो पत्तियों’ वाले चुनाव चिन्ह के लिये दोनों गुट अभी तक 10 लाख एफ़िडेविट जमा कर चुके हैं। लेकिन माना जा रहा है कि अम्मा का आशीर्वाद इन सारे एफ़िडेविटों पर भारी पड़ेगा।

“लेकिन यमलोक में अम्मा किधर हैं, आपके विधायक को ये कैसे पता चलेगा?” इसके जवाब में दिनाकरन ने हँसते हुए कहा, “अम्मा इधर इतना पुण्य का काम करके गयी हैं तो हंड्रेड परसेंट स्वर्ग में ही होंगी और किधर होंगी! और उधर भी वो सबसे ऊँचे सिंहासन पे बैठी होंएगी। इसलिये ढूँढने में कोई प्रॉब्लम नहीं होगा।”

कहते हैं कि ऊपर जाने वाला कोई लौटकर नहीं आया लेकिन अम्मा के भक्तों के लिये कुछ भी मुश्किल नहीं है! ख़ुद को अम्मा का असली भक्त साबित करने के लिये वे कुछ भी कर सकते हैं। लेकिन वे यमलोक जाएंगे कैसे, यह अभी साफ़ नहीं है। वैसे, न्यूज़ चैनल वाले शाम को हमें बताने वाले हैं कि ये विधायक यमलोक कैसे जा सकते हैं!



ऐसी अन्य ख़बरें