Tuesday, 24th October, 2017

चलते चलते

राजदीप सरदेसाई ने कहा ''2002 गुजरात दंगो पर केवल मुझे बात करने का हक़ है ''

21, Sep 2017 By banneditqueen

एजेंसी. कल इंडिया टुडे के वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई और राहुल कँवल ने अर्नब गोस्वामी की अपने स्टूडियो में जमकर धुलाई की। अर्नब गोस्वामी का झूठ पकड़े जाने के बाद राजदीप सरदेसाई और राहुल कँवल ने मीडिया की कमान संभालते हुए सभी महत्वपूर्ण मुद्दों को नज़रअंदाज़ कर केवल अर्नब पर ध्यान दिया और एक घंटे का एक्सक्लूसिव शो केवल अर्नब पर रखा।

अब होगा घमासान
अब होगा घमासान

सबको लगा कि शायद अर्नब के झूठ बोलने के चलते राजदीप सरदेसाई उनपर इतने नाराज़ हैं। परन्तु शो के दौरान कुछ और ही बात सामने आई। शो के दौरान राजदीप ने कहा ”पिछले कई सालों से मैंने और सागरिका ने 2002 दंगो पर जितनी रिसर्च की है उतनी किसी ने नहीं की। इस पर झूठ या सच बोलने का हक़ किसी को है तो वो सिर्फ मुझे और सागरिका को है। अर्नब को झूठ बोलने  अधिकार नहीं, और 2002 गुजरात दंगो पर तो बिल्कुल नहीं। जिस तरह हर बच्चे का एक चहेता विषय होता है वैसे ही मेरा भी चहेता विषय 2002 गुजरात दंगे हैं।”

शो के दौरान जब त्रिपुरा में मारे गए पत्रकार की खबर आई तो राजदीप ने पूछा ”अगर BJP शासित राज्य है या पत्रकार हिन्दू विरोधी है तो इस पर चर्चा करने का फायदा है, नहीं तो जाने दो, बाद में देखेंगे इस मामले को।” राहुल कँवल का कहना है कि आपसी दुश्मनी महत्वपूर्ण ख़बरों से ज़्यादा महत्वपूर्ण है इसीलिए हमने अर्नब के झूठ पर एक घंटे तक चर्चा की।



ऐसी अन्य ख़बरें