Sunday, 17th December, 2017

चलते चलते

न्यूज़ चैनल पर अनुभवी और समझदार न्यूज़ एंकर रखने का आरोप, सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने नोटिस जारी किया

28, Jul 2014 By बगुला भगत

नई दिल्ली. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के एक नोटिस के बाद देश भर के न्यूज़ चैनलों में हड़कंप मच गया है। मंत्रालय ने आज एक बड़े न्यूज़ चैनल को कारण बताओ नोटिस जारी कर दो साल के अंदर तुरंत जवाब मांगा है। न्यूज़ चैनल पर आरोप है कि उसने एक 25 साल से ज़्यादा उम्र की एंकर से न्यूज़ रीडिंग कराई है। मंत्रालय का यह भी आरोप है कि एंकर जिस ख़बर को पढ़ रही थी, वह उस ख़बर को समझती भी थी।

arnab goswami
अर्नब ने भी न्यूज़ चॅनेल को लताड़ा

उधर, आरोपी न्यूज़ चैनल के सीईओ अजब शर्मा ने अपनी सफ़ाई में कहा कि “देखिये, हमारी कुछ गाइडलाइंस हैं, जिनका हमें पालन करना होता है। इन गाइडलाइंस के मुताबिक हम किसी भी समझदार न्यूज़ रीडर को नौकरी पर रख ही नहीं सकते!” उन्होंने आगे बताया कि “शर्त यह भी है कि न्यूज़ के बारे में उसे कम से कम जानकारी होनी चाहिए। लाइव बुलेटिन पर जाने से ऐन पहले और उसके तुरंत बाद उसका फ़ेसबुक पर बिजी रहना भी अनिवार्य है।”

उम्र संबंधी उल्लंघन के बारे में हैरानी जताते हुए श्री अजब ने कहा कि “ऐसा कैसे हो सकता है! हम सारे सीनियर लोग महिला एंकर्स पर और उनकी उम्र पर ख़ास नज़र रखते हैं। फिर भी अगर कोई नज़र से बच गयी है, तो मैं इसकी निम्न-स्तरीय जांच कराऊंगा।”

अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि “भाईसाब, ये कोई पुराने ज़माने वाला दूरदर्शन तो है नहीं, जहां ज़्यादा उम्र की अनुभवी न्यूज़ रीडर रख ली जाये। आज हमारी 65% पॉपुलेशन यंग है, जिसे हर चीज़ में कुछ डिफ़रेंट चाहिए। अब उन्हें एंकर भी ग्लैमरस चाहिए, जो सीरियलों जैसी हो।”

इस नोटिस के बाद पूरी मीडिया इंडस्ट्री में अफ़रा-तफ़री का माहौल है। न्यूज़ चैनलों में 25 साल से ऊपर की जो भी दो-चार एंकर बची हैं, अब उनकी नौकरी पर तलवार लटक गई है। ऐसी ही एक एंकर ने नाम ना छापने की शर्त पर अपनी परेशानी जाहिर की कि “मैं समझदार नहीं हूं, ये तो मैं आसानी से प्रूव कर दूंगी, लेकिन उम्र का क्या करूं!”

वहीं, दो घंटे में मेकअप रूम से बाहर निकली एक दूसरी एंकर ने ग़ुस्से से बिफ़रते हुए कहा कि “अगर समझदार ही बनना होता, तो मैं किसी और प्रोफ़ेशन में ना जाती, एंकर क्यूं बनती!” अपने ग़ुस्से को जारी रखते हुए उसने आगे कहा कि “पता है इस नोटिस में मेल एंकर्स का ज़िक्र क्यूं नहीं है?” उसने राज़ खोलते हुए कहा कि “वो इसलिए कि कई चैनल्स के मालिक ख़ुद एंकर भी हैं, जो सारे 25 साल से ऊपर के हैं और समझदारी के मामले में हम लड़कियों से भी गए-गुज़रे हैं।”



ऐसी अन्य ख़बरें