Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

रजनीकांत ने फिर कहा- "जल्द ही आऊँगा राजनीति में", एडिटर ने दसवें पन्ने पर छापी ख़बर

06, Sep 2017 By Ritesh Sinha

चेन्नई. सुपरस्टार रजनीकांत ने एक बार फिर से संकेत दिए हैं कि वो जल्द ही राजनीति में कदम रख सकते हैं। उन्होंने अपने समर्थकों से इस महा-एतिहासिक घटना के लिये तैयार रहने की अपील की है। हालाँकि, वो ऐसा पहले भी पचास बार कर चुके हैं, लेकिन अब तक उन्होंने खुलकर एलान नहीं किया है कि वाकई में वो राजनीति में आना चाहते हैं या नहीं। हर बार उनके समर्थक देखते रह जाते हैं, और वो हैं कि ‘कभी हाँ कभी ना’ का खेल रहे हैं।

Rajinikanth
राजनीति में आने का इशारा करते रजनी सर

इनके अलावा एक और एक्टर हैं, जो पिछले कुछ सालों से इसी धंधे में लगे हुए हैं, और वो हैं कमल हासन साब! दोनों राजनीति में आने का बस संकेत दे रहे हैं! यानि कि दोनों एक ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं। लेकिन इस बार उनके संकेतों को कोई भी सीरियसली नहीं ले रहा है। न्यूज़ वालों ने तो इन ख़बरों को दसवें पन्ने पर नीचे की तरफ छाप दिया। उधर, न्यूज़ चैनल वालों ने इन ख़बरों को फटाफट ख़बरों में 80वें नंबर पर दिखाया।

“आजकल लोग इस खबर को कोई भाव नहीं दे रहे हैं! ‘रिपब्लिक टीवी नं-1’ जैसा हाल हो गया है इसका! ऊब गए हैं लोग इसी खबर को बार-बार पढ़कर! होता कुछ नहीं है! इसीलिए हमें ये निर्णय लेना पड़ा! वो कब तक सिर्फ राजनीति में आने का इशारा करते रहेंगे? हम यहाँ दूसरों का इशारा समझने के लिए बैठे हैं क्या? आना है तो आओ, वरना इस देश में नेताओं की कमी नहीं है! गली-गली में नेता घूम रहे हैं! पता नहीं किस चीज़ का इंतज़ार कर रहे हैं रजनी सर!” -चेन्नई से निकलने वाले एक अखबार के एडिटर ने बताया।

“शुरू-शुरू में हम भी इस खबर को पहले पन्ने पर छापते थे, और लोग चाव से पढ़ते भी थे, लेकिन अब हमने लास्ट वाले पन्ने पर छापना शुरू कर दिया है, नीचे की तरफ कोने में! ये देखिए!” -कहते हुए एडिटर साब अपना अखबार दिखाने लगे। वहीँ, कुछ न्यूज़ चैनल अभी भी दावा कर रहे हैं कि रजनीकांत सन् 2050 तक राजनीति ज्वॉइन कर सकते हैं। उधर, केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि, जो लोग अभी भी मानते हैं कि रजनीकांत और कमल हासन राजनीति में आएँगे, उन्हें हर साल ‘मेरे करन-अर्जुन आएँगे पुरुस्कार’ दिया जायेगा।



ऐसी अन्य ख़बरें