Friday, 28th July, 2017
चलते चलते

अर्नब के शो में 6 महीने बाद पूरा वाक्य बोल पाया पेनलिस्ट, घरवालों ने खुशी में माता का जागरण कराया

03, Dec 2014 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. देश के जाने-माने पॉलिटिकल एक्सपर्ट चंद्रभान प्रसाद के घर आज जश्न का माहौल है। छह महीने तक लगातार कोशिश करने के बाद अर्नब गोस्वामी के शो में पहली बार वो एक पूरा वाक्य बोल पाये हैं। इस उपलक्ष्य में उनके घर पर माता का जागरण कराया जा रहा है।

जब फ़ेकिंग न्यूज़ संवाददाता प्रसाद इंटरव्यू लेने चंद्रभान के घर पहुंचा तो मेन रोड से उनके घर तक तीर के निशान वाले कई बोर्ड लगे दिखायी दिये, जिन पर लिखा था- ‘अर्नब के शो में बोलने वाले चंद्रभान इधर रहते हैं’।

arnab goswami
“जाओ चन्द्रभान, ऐश करो”

प्रसाद का भोग लगवाने के बाद चंद्रभान की पत्नी भानुमति ने बताया कि “ये सुपर प्राइम टाइम में पिछले 6 महीने से जा रहे थे, लेकिन कभी बोल नहीं पाते थे। इसलिए हमने मन्नत मांगी थी कि जिस दिन ये अर्नब के सामने एक सेन्टेन्स पूरा बोल देंगे, हम माता रानी का जागरण कराएंगे।”

चंद्रभान के बड़े बेटे सार्थक ने बताया कि “पापा रोज़ जाते हुए कहते थे कि आज रात मुझे न्यूजआवर में देखना। हम सब जान-पहचान वालों को भी मैसेज कर देते थे और टीवी के सामने बैठ जाते थे लेकिन पापा को बस उंगली उठाकर अपनी बारी का इंतज़ार करता हुआ देखते रह जाते थे।”

“जब अर्नब की दहाड़ती हुई आवाज़ आती थी कि ‘आप मेरे नेशनल टेलीविजन पर बैठे हैं और पूरा देश आपको देख रहा है। ये देश आपसे कुछ जानना चाहता है, हिम्मत है तो बोलकर दिखाइए’ यह सुनते ही पापा का हलक सूख जाता था, लेकिन कल तो जैसे चमत्कार ही हो गया!” -छोटे बेटे निरर्थक ने प्रसाद का एक और दोना थमाते हुए कहा।

चंद्रभान ने उन पलों को याद करते हुए बताया कि “उस क्षण मुझे ऐसा लगा जैसे मां भगवती साक्षात मेरे सामने प्रकट हो गयी हैं। मैंने अपने अंदर एक दिव्य शक्ति महसूस की और मैं बिना डरे बोलता चला गया। जब मुझे होश आया तो मैं पूरा वाक्य बोल चुका था।”

उन्होंने अपनी भविष्य की योजना का खुलासा करते हुए कहा, “अब मैं एक कोचिंग इंस्टीट्यूट खोलने वाला हूं, जिसमें ‘न्यूज़आवर में कैसे बोलें’, ‘हाऊ टू क्रैक न्यूज़आवर’ और ‘फ़ेस द डेविल विदाउट फीयर’ जैसे कोर्स चलाये जाएंगे।”

इधर चंद्रभान जी खुशियां मना रहे हैं तो उधर कई पेनलिस्ट्स आरोप लगा रहे हैं कि न्यूज़आवर में बोलने के लिये चंद्रभान ने अर्नब को रिश्वत दी है। जाने-माने पेनलिस्ट गौरव गुहा का कहना है कि “डेढ़ साल से मुझे इसलिए नहीं बोलने दिया गया क्योंकि मैंने अर्नब की मुट्ठी गरम नहीं की!”

रिश्वतखोरी के इन आरोपों के बाद केंद्र सरकार ने न्यूज़आवर की सीबीआई जांच के आदेश दे दिये हैं। शो के पुराने टेप देखकर सीबीआई पता लगायेगी कि अर्नब ने आज तक किस-किस पेनलिस्ट को कब-कब और क्यों-क्यों बोलने का मौक़ा दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें