Friday, 23rd June, 2017
चलते चलते

चार महीनों से बीजेपी को जिता रहा युवक शेयर बाज़ार में पैसे लगाना भूला, घरवाले सदमे में

14, Mar 2017 By Ritesh Sinha

मुंबई. चेंबूर इलाके में रहने वाला मोहित मीरचंदानी पिछले चार महीनों से दावा कर रहा था कि यूपी में बीजेपी को 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। इन चार महीनों में वो दिन-रात फेसबुक और ट्विटर पर बीजेपी की जीत के दावे करता रहा। कुछ लोग मोहित का मज़ाक भी उड़ाते थे कि ऐसा कैसे हो सकता है क्योंकि सपा-कांग्रेस का ‘गठबंधन’ काफ़ी मजबूत दिखाई दे रहा था। लेकिन मोहित आख़िरी समय तक अपनी बात पर डटा रहा। वो आये दिन ट्वीट करता कि “अभी-अभी यूपी से लौटा हूँ। ग्राउंड रिपोर्ट कहती है कि वहां मोदी की लहर चल रही है। अब की बार 300 के पार!” और आख़िरकार मोहित की बात सच निकली।

sensex
शेयर मार्केट में उछाल देखकर माथा पीटता मोहित मीरचंदानी

लेकिन इस बीच मोहित से एक बहुत बड़ी गलती हो गई। बीजेपी को चुनाव जिताने के चक्कर में वो शेयर बाज़ार में पैसे लगाना भूल गया। उसके पापा ने कई बार उससे कहा भी था कि बेटा मौका अच्छा है कुछ पैसे स्टॉक मार्केट में डाल दे लेकिन मोहित औरों को बताने के चक्कर में भूल गया। अब चुनाव परिणाम के बाद आज जब बाज़ार खुला तो सेंसेक्स को ऊपर जाता देख वो सर पकड़ कर बैठ गया।

जब यह बात मोहित के पापा तिलोक भाई मीरचंदानी को पता चली तो वो आग बबूला हो उठे। वो मोहित पर बरस पड़े- “बेवकूफ! चार महीने से ‘बीजेपी जीतेगी-बीजेपी जीतेगी’ चिल्ला रहा था। जब इतना श्योर था तो चार पैसे शेयरों में क्यों नहीं डाले! देख उधर! तेरी भविष्यवाणी देखकर कितने लोग अमीर हो गए। लेकिन जनाब को तो ख़ुद के लिये फुरसत ही नहीं है ना! अब घर क्या अमित शाह के पैसों से चलेगा?”

मोहित चुपचाप कोने में खड़ा सब सुनता रहा। तभी तिलोक जी ने उसकी जेब में हाथ डाला और मोबाइल निकालकर सड़क पर फ़ेंक दिया और चिल्लाते हुए बोले- “दिन भर ट्विटर और व्हॉट्सएप! कमाई-धमाई का कुछ ध्यान ही नहीं है! बेजान दारूवाला बना फिरता है खाली-पीली! अब खड़ा क्या है…भाग यहाँ से!” मोहित ने चुपचाप अपना मोबाइल उठाया और पतली गली से निकल गया। अब उसने कसम खाई है कि गुजरात चुनावों के रिजल्ट से पहले वो शेयर बाज़ार में दो-चार हज़ार रुपये ज़रूर इन्वेस्ट करेगा।



ऐसी अन्य ख़बरें