Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

प्रधानमंत्री मोदी की 'ओवरडोज' से युवक की हालत बिगड़ी, गंभीर हालत में आईसीयू में भर्ती

28, Jan 2015 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. करोल बाग़ में एक परिवार पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘मन की बात’ क़हर बनकर टूट पड़ी। मोदी जी की ‘ओवरडोज’ लेने की वजह से शर्मा परिवार के बड़े बेटे सुकेश की तबियत अचानक बिगड़ गयी। परिजनों ने उसे सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

Modi Mann1
इसी दृश्य को देखकर बेहोश हुआ सुकेश

सुकेश के पिता मुकेश ने बताया कि “हम सुबह नाश्ता करते हुए टीवी देख रहे थे, टीवी पर प्रधानमंत्री मोदी की मन की बात सुनाई दिखायी जा रही थी। अचानक सुक्कू (सुकेश) को ज़ोर-ज़ोर से उल्टियां होने लगीं और वो टीवी की तरफ़ इशारा करते हुए नीचे गिर पड़ा।”

सुकेश का इलाज कर रहे डॉक्टर अरोड़ा ने बताया कि “इस बच्चे ने मोदी जी की ओवरडोज ले ली है, इस वजह से इसे ‘मोदीफ़ोबिया’ हो गया है। इस बीमारी में आदमी को लगने लगता है कि उसके चारों तरफ़ मोदी ही मोदी हैं। यहां तक कि अपने मां-बाप में भी मोदी का ही चेहरा नज़र आने लगता है।” फिर वो सुकेश के माता-पिता को सलाह देते हुए बोले कि “इसे टीवी से दूर रखो या न्यूज़ चैनल देखते समय किसी दूसरे कमरे में बंद कर दो। और अगर हो सके तो इसे किसी ऐसे रिश्तेदार के घर भेज दो, जहां टीवी, रेडियो, न्यूज़पेपर, मोबाइल कुछ भी ना हो।”

जब मुकेश ने पूछा कि “अचानक ऐसा कैसे हो गया डॉक साब?” तो डॉक्टर अरोड़ा ने डिटेल में समझाते हुए कहा कि “असल में, हमारे जो पिछले वाले पीएम थे, वो दस साल में कुछ बोले नहीं और ये वाले पीएम कभी चुप नहीं रहते। अचानक आये इतने बड़े बदलाव को सुकेश का मस्तिष्क सहन नहीं कर सका और वो कोमा में पहुंच गया।”

“जितने टाइम हमने पिछले आठ प्रधानमंत्रियों की शकल देखी थी, उससे ज़्यादा हम अकेले मोदी जी की देख चुके हैं।” मामले की गंभीरता को समझाते हुए वो आगे बोले, “यानि सुकेश को जितना अपनी पूरी ज़िंदगी में देखना चाहिए था, उससे ज़्यादा ‘मोदी’ वो 18 साल की उम्र तक ही देख चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार किसी भी देश का आदमी अपने प्रधानमंत्री को एक साल में 255 घंटे तक देख सकता है। जबकि हम लोग 8 महीनों में ही मोदी जी को ढाई हज़ार घंटे से ज़्यादा देख और सुन चुके हैं, जो औसत से दस गुना ज़्यादा है।”

फिर सुकेश के माता-पिता को चेतावनी देते वो हुए बोले- “और अभी ये ख़तरा और बढ़ने वाला है क्योंकि आने वाले दिनों में मोदी जी अमावस्या और पूर्णमासी पर भी राष्ट्र को संबोधित करेंगे।”



ऐसी अन्य ख़बरें