Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

"मैं GST के बारे में ज़्यादा नहीं जानता"- कहने वाले युवक को मिलेगा ईमानदारी का पुरुस्कार

18, Jun 2017 By Ritesh Sinha

रायपुर. टीवी और अखबार में आए दिन ईमानदारी के नये-नये किस्से सुनने को मिलते रहते हैं। लेकिन जो काम सरोजनी नगर के रहने वाले आकाश पटेल ने किया है, वो ईमानदारी के बिजनेस को भी चार चाँद लगा देगा। दरअसल, उसने अपने दोस्तों के सामने बेबाकी से कहा दिया कि “मैं GST के बारे में ज्यादा नहीं जानता!” बस, फिर क्या था, आकाश की ईमानदारी के चर्चे, गैरों की महफ़िलों में भी होने लगे, और वो रातों-रात स्टार बन गया। आकाश की इस ईमानदारी से वित्त मंत्री अरुण जेटली भी इम्प्रेस हुए हैं और उन्होंने घोषणा की है कि आकाश को 1 जुलाई के दिन 5 लाख रुपये नगद, शॉल और श्रीफल भेंट करके सम्मानित किया जाएगा।

Jaitley9
आकाश से मिलने जाते अरुण जेटली

हुआ यूँ कि, कुछ दिन पहले आकाश और उनके चार-पांच दोस्त एक रेस्टोरेंट में लंच करने पहुंचे हुए थे। वहां खाना आर्डर करने के बाद सभी दोस्त आपस में गप्पे मारने लगे। तभी उनमें से किसी ने GST की बात छेड़ दी। अब उनकी टेबल पर GST ही ट्रेंड करने लगा। सबने बारी-बारी से GST के बारे में अपने-अपने विचार रखे, लेकिन आकाश चुपचाप हाथ में गिलास लेकर उनका चेहरा देखने लगा। आधे घंटे बाकी सब लोग बहस करते रहे “अबे GST आने से ये फायदा होगा! ये नुकसान होगा!” लेकिन आकाश ने चूँ तक नहीं की। तभी उसके एक दोस्त जागृत ने आकश की ओर देखते हुए कहा “तू चुप क्यों है बे? तू भी बता कुछ GST के बारे में!” इतना सुनते ही उसके मुंह से निकल गया “मैं GST के बारे में ज्यादा नहीं जानता!” उसका यह जवाब सुनकर सबका मुंह खुला का खुला रह गया।

“क्या?” एक दोस्त ने ककड़ी चबाते हुए कहा। “जी हां! मैं सच कह रहा हूँ, मुझे सच में GST के बारे में ज्यादा नहीं पता!” आकाश की ऐसी ईमानदारी देखकर उसके दोस्तों की बोलती बंद हो गई। उन्होंने जेब से मोबाइल निकाला और एक बार फिर पूछा। इस बार भी वही जवाब आया। उसके दोस्तों ने इस घटना का वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। थोड़ी ही देर में आकाश की बेबाकी की चर्चा पूरे देश में होने लगी।

आकाश के साथ लंच करने वाले उसके परम मित्र गज्जू ने बताया कि “आजकल तो सब GST पर ही बहस कर रहे हैं, जिन्हें कुछ भी नहीं आता, वो भी बीच-बीच में चौके मार दे रहे हैं। जैसे कि मैं! लेकिन उसे क्या ज़रूरत थी इस तरह सच बोलने की! मुझे समझ नहीं आता। खैर, अब वो इंटरनेट पे फेमस हो चुका है, फिर भी हम उसे अपनी गैंग में नहीं रखेंगे। साले ने उस दिन GST पर कुछ बोला ही नहीं! हम लोग पागल थे क्या?” उधर, केंद्र सरकार ने आकाश को उसके अदम्य साहस, समर्पण और सच्ची निष्ठा के लिए सम्मानित करने की तैयारी शुरू कर दी है।



ऐसी अन्य ख़बरें