Monday, 29th May, 2017
चलते चलते

बेवड़े बिहारी युवकों ने हैक की बिहार सरकार के आईटी विभाग की वेबसाइट

16, Oct 2016 By khakshar

पटना. कुछ शरारती तत्वों द्वारा आज बिहार सरकार के आईटी विभाग की वेबसाइट को हैक करने से हड़कंप मच गया। वेबसाइट हैक होते ही सीआईडी और पुलिस ने मिलकर मामले की जांच शुरु कर दी है। हैकर्स ने वेबसाइट पर जो संदेश लिखा है, उससे लगता है कि यह बेवड़े बिहारी युवकों की करतूत है, जो राज्य में शराब-बंदी से नाराज़ हैं।

Bihar Liquor Ban
सर्जिकल स्ट्राइक के लिये तैयार KBAB के हैकर्स

वेबसाइट पर शराब के ऊपर तरह -तरह की शायरी और उसके उपयोगी नुस्खे बताये गए हैं और शराब ना पीने वालों को भद्दी-भद्दी गालियाँ दी गयी हैं। कुछ संवाद तो इतने बेसिर-पैर के हैं कि उन्हें फ़ेकिंग न्यूज़ पर छापना भी असंभव है।

हैकर्स ने अपने संदेश में बिहार के पड़ोसी राज्यों के विकास का गुणगान किया है और पड़ोसी देश नेपाल को भारत का एकमात्र मित्र-राष्ट्र बताया गया है। उन्होंने यह भी लिखा है कि अगर भारत को चीन से आगे निकलना है तो बिहार में शराब-बंदी खत्म करनी पड़ेगी। इसके पीछे हैकर्स ने तर्क दिया है कि अगर शराब -बंदी चालू रही तो बिहार की जनसंख्या बढ़ती जायेगी क्योंकि लोग अब अंधेरा होने के बाद सिर्फ़ एक ही काम कर रहे हैं।

पुलिस के सूत्रों का कहना है कि वेबसाइट को हैक करने वाले संगठन का नाम ‘कुपित बेवड़ा एसोसिएशन ऑफ बिहार’ (KBAB) है। इस संगठन का नाम पहले भी शराब-बंदी के खिलाफ बग़ावत में आ चुका है। इसने शराबबंदी के विरोध में बिहार में तरह-तरह के पोस्टर भी लगाए थे। एक पोस्टर में पुलिस वालों से अनुरोध किया गया था कि वे थानों को डांस-बार के रूप में इस्तेमाल करें। माना जाता है कि बिहार की जेलों में वो सब सामान आसानी से उपलब्ध है, जो डांस बार में मिलता है।

इस संगठन ने सभी पीने वालों से जेल भरो आंदोलन का भी आह्वान किया है और बिहार के युवकों को बग़ावत की ट्रेनिंग देना भी शुरू कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें