Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

मोदी जी को अपने-अपने चौराहे पर बुलाने की होड़ मची, लकी ड्रॉ से चुना जायेगा विजेता चौराहे का नाम

29, Dec 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देशवासियों से मांगी गयी 50 दिनों की मोहलत ख़त्म होते ही अब उन्हें अपने-अपने शहर के चौक पर बुलाने की होड़ मच गयी है। देश में हज़ारों शहर और क़स्बे हैं, जिनमें लाखों चौक और चौराहे हैं और हर शहर-क़स्बे का बंदा चाहता है कि प्रधानमंत्री मोदी उसके शहर के चौराहे पर आकर खड़े हों। इस वजह से अट्ठाईस दिसंबर की शाम तक प्रधानमंत्री कार्यालय को 56 हज़ार, 420 चौराहों के नाम प्राप्त हो चुके थे। उम्मीद है कि 30 दिसंबर की मध्य-रात्रि तक यह संख्या लाखों में पहुंच जायेगी। चौराहों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए पीएमओ ने विजेता चौराहे का नाम लकी ड्रॉ से निकालने का फ़ैसला किया है, जिसे ‘प्रधानमंत्री लकी चौराहा योजना’ (PLCY) नाम दिया गया है।

patna chauraha
पटना के एक प्रसिद्ध चौराहे पर अभी से उमड़ रही भीड़

चूंकि हमारे शहरों में सड़कें कम होती हैं और चौराहे ज़्यादा होते हैं, इसलिये पीएमओ ने कहा है कि एक शहर से केवल एक ही चौराहे का नाम इस लकी ड्रॉ में शामिल किया जायेगा। जिस चौराहे को ‘चौक’ या ‘चार-रास्ता’ कहकर पुकारा जाता है, उसे इस ड्रॉ में शामिल नहीं किया जायेगा। पीएमओ के सूत्रों का कहना है कि इस शर्त के बाद चौराहों की संख्या आधी से भी कम रह जायेगी।

पीएमओ में चौराहों के नामों की पर्ची बना रहे एक अधिकारी ने फ़ेकिंग नयूज़ को बताया कि “ऐसा नहीं है कि नाम भेजने वाले सब लोग प्रधानमंत्री मोदी को सज़ा ही देना चाहते हैं। इनमें बहुत सारे ऐसे लोग भी हैं जो इस बहाने से उन्हें देखना या छूना चाहते हैं या उनके साथ सेल्फ़ी लेना चाहते हैं। ड्रॉ में किसी ऐसे ही चौराहे के जीतने के चांस ज़्यादा दिखायी दे रहे हैं।”

उधर, बीजेपी ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री का बचाव करना शुरु कर दिया है। पार्टी का कहना है कि नोटबंदी के फ़ैसले में कोई ग़लती नहीं पायी गयी है, इसलिये मोदी जी के किसी चौराहे पर जाने का सवाल ही नहीं उठता। पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि “चौराहे वाली बात एक जुमला थी। आज तक इस देश में कोई प्रधानमंत्री अपनी ग़लती के लिये किसी चौराहे पे जाकर खड़ा हुआ है क्या! प्रधानमत्री छोड़ो, इस देश में कोई चौकीदार भी कहीं खड़ा नहीं होता!”



ऐसी अन्य ख़बरें