Thursday, 27th April, 2017
चलते चलते

व्हाट्सएप पर हमेशा चाणक्य नीति भेजने वाला युवक एग्जाम में नक़ल करते हुए पकड़ा गया

15, Apr 2017 By Ritesh Sinha

बलिया. धनपत राय हायर सेकंडरी स्कूल में एक ऐसे छात्र को नक़ल करते हुए पकड़ा गया है, जो साल भर व्हाट्सएप पर चाणक्य नीति भेजा करता था। बताया जाता है कि टिल्लू यादव, जो पिछले तीन साल से 12वीं कक्षा पास करने का प्रयत्न कर रहा है, पढ़ाई-लिखाई करने के बजाय बस व्हाट्सएप से चिपका रहता था। अपने दोस्तों को चाणक्य नीति के बारे में मैसेज भेजता और उन्हें समझाता कि “सत्य के रास्ते में चलने से सफलता जरूर मिलती है। जीवन में कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं होता।” यही वजह है कि पिछले दिनों जब टिल्लू, क्लास में बनवारी लाल से भिड़ गया था तो दूसरे दिन वो घर से दही लेकर आ गया और ललकारते हुए बोला “आज मैं इस बनवारी का पूरा खानदान ही जड़ से ख़तम कर दूंगा।”

इतने मैसेज पढ़ने क़े बाद भी फायदा नहीं हुआ
इतने मैसेज पढ़ने क़े बाद भी फायदा नहीं हुआ

इसी चाणक्य नीति के चक्कर में पूरा एक साल निकल गया और टिल्लू को पास होने के लिए नक़ल का सहारा लेना पड़ा। लेकिन उसकी किस्मत खराब थी और वह नक़ल करते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया। हालाँकि, टिल्लू को इसका कोई गम नहीं है। उसने बताया कि “इसमें मेरी कोई गलती नहीं है। दरअसल, चाणक्य ने नक़ल करना चाहिए कि नहीं? इस बारे में कुछ नहीं कहा है, इसी वजह से मुझे मजबूरी में नक़ल करना पड़ता है। खैर! इस बार नहीं तो अगली बार मैं तो पास हो ही जाऊंगा!”

टिल्लू के दोस्त बटुक लाल ने बताया कि “क्या बताऊँ! ये तो हमें पागल कर देता था। जब देखो तब बस व्हाट्सएप! हम लोग तो जोक्स वगैरह भेजते थे लेकिन वो तो चाणक्य नीति के पीछे पड़ गया था। खैर! चाणक्य नीति पढ़के भी लड़का सुधरा नहीं। रहा गधा का गधा ही।” उधर, व्हाट्सएप पर लंबे-लंबे ‘मॉरल’ मैसेज भेजने वालों पर कड़ी कार्रवाई की मांग हो रही है। सोशल मीडिया एक्सपर्ट रंजीत कुमार ने मांग की है कि “कुछ मैसेज तो इतने लंबे होते हैं कि पढ़ने में पूरा एक घंटे लग जाएं। जो लोग इस ‘मॉरल’ मैसेज के गोरखधंधे में शामिल हैं उन्हें कम से कम पांच साल की सजा तो होनी ही चाहिए।”



ऐसी अन्य ख़बरें