Saturday, 23rd September, 2017

चलते चलते

ख़ुद ही जेल जाने के लिये निकले रॉबर्ट वाड्रा, बीजेपी नेता रोकने पहुँचे

02, Aug 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा अब से थोड़ी देर पहले अचानक जेल जाने के लिये निकल पड़े हैं। बेहद हड़बड़ी में नज़र आ रहे वाड्रा ने कोट पहनते हुए कहा कि “Enough is Enough! पाँच साल हो गये बीजेपी को मेरे नाम का फ़ायदा उठाते हुए। खाली जेल-जेल करते रहते हैं, भेजते हैं नहीं! अपने नाम से उन्हें और चुनाव नहीं जीतने दूँगा मैं!” कहकर वो गाड़ी में बैठकर रवाना हो गये।

Robert-Vadra7
जेल के लिये रवाना होते रॉबर्ट वाड्रा

इस ख़बर को सुनकर बीजेपी नेताओं को तो जैसे साँप सूँघ गया है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने आनन-फानन में पार्टी के सीनियर नेताओं की मीटिंग बुलाई और वाड्रा की जेल से होने वाले नुकसान पर चर्चा की। प्रधानमंत्री मोदी समेत सभी नेताओं का एक सुर में कहना था कि सोने का अंडा देने वाला ये मुर्ग़ा हाथ से निकलना नहीं चाहिये। इस पर किसी ने कहा कि ‘मुर्ग़ा’ नहीं मुर्ग़ी!” तो जेटली जी हँसते हुए बोले- “हमारे शाह जी आजकल मुर्ग़े से भी अंडा दिलवा सकते हैं।”

“मज़ाक छोड़ो भाईसाब! लोकसभा चुनाव में अब दो साल से भी कम टाइम बचा है। अगर ये मुद्दा हाथ से निकल गया तो हम क्या करेंगे!” -रविशंकर प्रसाद ने पसीना पोंछते हुए कहा। यह सुनकर शाह जी ने पूछा कि “वाड्रा के साथ में किस-किस की दुआ-सलाम है?” यह सुनते ही आधे से ज़्यादा नेताओं ने हाथ उठा दिये। “अरे, तो यहाँ बैठे क्या कर रहे हो! जाओ, किसी भी तरह रोको उसे!”

आदेश मिलते ही कई नेता फ़ौरन निकल पड़े। अंतिम समाचार लिखे जाने तक वाड्रा की गाड़ी तिहाड़ जेल की तरफ़ बढ़ रही थी और उन्हें रोकने के लिये बीजेपी के नेता उनकी गाड़ी के पीछे-पीछे दौड़ रहे थे। उधर, सैंकड़ों बीजेपी नेता और कार्यकर्ता तिहाड़ जेल के गेट के सामने लेट गये हैं। उनका कहना है कि “अगर दामाद जी जेल जाएंगे तो उन्हें हमारी लाश के ऊपर से गुज़रना होगा!”



ऐसी अन्य ख़बरें