Tuesday, 27th June, 2017
चलते चलते

यूपी में 'ई-थाना' खुलने से पुलिस डिपार्टमेंट में हड़कंप; ऑनलाइन रिश्वत कैसे लेते हैं किसी को नहीं पता

27, May 2016 By बगुला भगत

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में पहले ‘ई-थाने’ को मंजूरी मिल गयी है। राज्य के डीजीपी जावीद अहमद ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि “इस थाने में पूरे प्रदेश में कहीं से भी कोई एफ़आईआर दर्ज करा सकेगा। इसके लिये बस यूपी पुलिस की वेबसाइट पर जाकर e-FIR पर क्लिक करना होगा।”

UP Thana
‘ई-थाने’ की ख़बर से ‘नॉर्मल’ थाने में पसरा मातम

लेकिन यह ख़बर सुनते ही पूरे पुलिस डिपार्टमेंट में मातम छा गया है। सिपाही से लेकर एसएसपी तक सब दहाड़ें मार-मारकर रो रहे हैं। हमारे रिपोर्टर ने जब हवलदार रामअवध यादव से पूछा कि “आप लोग ख़ुश होने के बजाय रो क्यूं रहे हैं?, तो उसने खा जाने वाली नज़रों से घूरते हुए कहा- “हमारे पेट पे रोलर चल रहा है और हम रोएं भी ना!”

रिपोर्टर ने कहा- “मैं कुछ समझा नहीं!”, तो रामअवध चिल्लाते हुए बोले- “शिकारपुर के हो क्या? इतनी सी बात समझ में नहीं आती। वो एफ़आईआर कराने वाला बैठा होगा वहां नोएडा में और हम बैठे हैं यहां लखनऊ में! तो हमें अपना पैसा कैसे मिलेगा?”

“पैसा…मतलब?”, “मतलब ये कि पैसा हमारे अकाउंट में ट्रांसफर होगा या वो चैक से देगा? मतलब हमें मिलेगा कैसे?” फिर उन्होंने बात को खोलते हुए कहा- “इस वेबसाइट में कोई लिंक हमारी रिश्वत के लिये भी होना चाहिये कि नहीं?”

थोड़ी देर बाद उन्होंने अपनी डोमेस्टिक इकोनॉमिक्स समझाते हुए कहा- “पुलिस में भर्ती होने के लिये हमने जो आठ लाख रुपये दिये हैं, उसमें से अभी आधे की भी वसूली नहीं हुई। सुत्तन सरपंच से जो कर्जा लिया है, उसे क्या इस इंटरनेट का बाप देगा? बोलो!”

तभी रामअवध को सड़क पे एक केले के ठेलेवाला दिखायी दिया और वो उसकी मां-बहन को पुकारते हुए दौड़ पड़े और फिर ये ले ‘ई-डंडा’ और ये ले ‘ऊ-डंडा’!



ऐसी अन्य ख़बरें