Friday, 28th July, 2017
चलते चलते

उत्तर प्रदेश में एक दिन में लग गए पांच करोड़ पौधे, अब खुली हवा में सांस ले सकेंगे अपराधी

16, Aug 2016 By Ritesh Sinha

लखनऊ. दिल्ली वाले बेशक अपने शहर में प्रदूषण एक इंच भी कम नहीं कर पाए लेकिन उत्तर प्रदेश की सरकार ने पांच करोड़ पौधे लगाकर गिनीज बुक में अपना नाम चस्पा करवा लिया है। वैसे तो यूपी में अपराधियों के लिए हवा पहले भी एकदम साफ़ थी लेकिन इस अभियान के बाद अब और चकाचक हो गई है। जल्द ही सभी अपराधी अखिलेश यादव से मिलकर उनका शुक्रिया अदा करने वाले हैं।

Akhilesh3
मंच पर पौधारोपण करते मुख्यमंत्री अखिलेश

अभियान की सफलता पर बात करते हुए उत्तर प्रदेश के एक बड़े नेता ने बताया कि “हमें बहुत दिनों से शिकायत मिल रही थी कि बढ़ते अपराध के कारण हमारी जनता खुली हवा में सांस नहीं ले पा रही है। हमने तुरंत कार्रवाई करते हुए पौधे लगाने का काम शुरू कर दिया, अब इन पौधों से तेजी से आक्सीजन बनेगी और जनता खुली हवा में सांस ले पाएगी।” कहते हुए नेताजी का चेहरा खिल उठा।

लेकिन यूपी में हर चीज़ की तरह इस अभियान का फायदा भी पब्लिक से ज़्यादा अपराधियों ने उठा लिया। प्रदेश के एक नामी-गिरामी अपराधी बब्बन सिंग ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि “पिछले कुछ दिनों से मुझे सांस लेने में बहुत तकलीफ हो रही थी, पिछले सप्ताह की ही बात ले लो जब मैंने एक थानेदार की बाइक चुरा ली, तो वो मुझे बाइक वापस करने के लिए फोन पे फोन किये जा रहा था, जबकि पहले ऐसा नहीं होता था। लेकिन अब सब कुछ ठीक है। अब मैं भी खुली हवा में आसानी से सांस ले सकता हूँ।” कहते हुए बब्बन ने खैनी को अपने मुंह में भकोस लिया।

उधर, अखिलेश यादव भी गिनीज बुक में नाम आने के बाद फूले नहीं समा रहे हैं। इसी ख़ुशी में इस बार उन्होंने सैफई महोत्सव के लिए दस करोड़ रुपये एक्स्ट्रा खर्च करने की घोषणा कर दी है। दस करोड़ की बात सुनकर सैफई महोत्सव में गोलगप्पे बेचने वाले पकलू यादव का मुंह खुला का खुला रह गया। आसपास डॉक्टर ना होने की वजह से कुछ खिला-पिलाकर पकलू यादव का मुंह बंद कराया गया।



ऐसी अन्य ख़बरें