Saturday, 25th March, 2017
चलते चलते

"गंगा में कोई गंदगी नहीं, वो अब एकदम साफ़ है"- उमा भारती का सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा

23, Dec 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती ने आज गंगा नदी को एकदम साफ़ बता दिया और कहा कि नदी में अब पॉलीथीन वगैरह कुछ नहीं है। सुप्रीम कोर्ट में दाख़िल किये अपने हलफ़नामे में उन्होंने कहा है कि गंगा नदी बिल्कुल साफ़ है, उसमें ज़रा सा भी पॉल्यूशन नहीं है।

Uma-Bharti1
गंगा की सफ़ाई पर उमाजी को बधाई देते अन्य मंत्रिगण

इस हलफ़नामे पर हैरानी जताते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उमा जी से कहा कि “कुछ दिन पहले तो आपने कहा था कि गंगा 2018 तक साफ़ हो पायेगी, अब अचानक इतनी जल्दी कैसे साफ़ हो गयी?”

इस पर उमा जी बोलीं- “वो जी, हम कुछ और कामों में लगे हुए थे, इस चक्कर में हमें पता ही नहीं चला कि गंगा मैय्या ऑलरेडी साफ़ हो चुकी है। मुझे भी कल ही पता चला, जब मेरे सेक्रेटरी ने आकर बताया।”

इसके बाद उमाजी ने जज साब को संत रविदास वाली लाइन सुनाते हुए कहा कि “जज साब, मन चंगा तो कठौती में गंगा!” इसके बाद उन्होंने सबूत के तौर पर एक कटोरे में लाया हुआ पानी अदालत में पेश कर दिया। जज साहब ने कटोरे को जांच के लिये भेज दिया है और कहा है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही फ़ैसला सुनाएंगे।

उधर, कुछ राजनीतिक विश्लेषक उमाजी के इस हलफ़नामे को रविशंकर प्रसाद के उस बयान से जोड़कर देख रहे हैं, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को गंगा के समान पवित्र बताया था। प्रसाद के इस बयान के बाद उमाजी पर दबाव बन गया था कि वो गंगा को साफ़-सुथरा घोषित कर दें नहीं तो लोग मोदी जी को भी गंदा समझने लगेंगे।

बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि मोदी जी ने अपनी तुलना गंगा जी से करने पर रविशंकर प्रसाद को काफ़ी झाड़ पिलाई है। उन्होंने प्रसाद को डांटते हुए कहा कि “तुम कंपेयर करने के लिये गंगा ही मिली थी क्या! देश का बच्चा-बच्चा जानता है कि गंगा नदी कितनी गंदी है। गंगा की जगह कुछ और बोल देते।”

प्रसाद जी ने अपनी ‘सफ़ाई’ में कहा कि “सर, मैंने तो बस एक मुहावरे की तरह बोल दिया था। फ़िल्म में हीरोइन भी जब रात भर ग़ायब रहने के बाद घर लौटती है तो ख़ुद को गंगा की तरह पवित्र बताती है, इसलिये मुझे आइडिया आया कि मैं भी आपकी नोटबंदी की कालिख…”, मोदी जी बीच में ही ग़ुस्से में पैर पटकते हुए बोले- “रैली में भाषण दे आऊं, फिर बताता हूं तुम्हें!”



ऐसी अन्य ख़बरें