Monday, 27th March, 2017
चलते चलते

अब घरवालों के डर के बिना ग्रलफ्रेंड को बाइक पर घुमाएगा युवक, बनेगा ऊबर मोटो ड्राइवर

16, Dec 2016 By banneditqueen

हैदराबाद. ऊबर पूल के बाद अब ऊबर लाया है ऊबर मोटो। पूरी कार बुक करने की बजाय अब आप केवल मोटरसाइकल बुक कर सकते हैं। इससे पूल में दूसरों को पिक करने में बरबाद होने वाला समय भी बचेगा साथ ही पैसे भी। यही नहीं मोटरसाइकल चलाते वक्त होने वाले शोर के चलते आपको ऊबर ड्राइवर की कहानियाँ भी नहीं सुननी पड़ेंगी और ना ही फेसबुक पर पोस्ट करने के लिये उससे नोटबंदी पर उसकी राय पूछने का मौका मिलेगा। ऊबर मोटो के हैदराबाद में लाँच होते ही वी.आई.टी. में पढ़ने वाले शादाब की एक ऐसी मुश्किल हल हो गई जिसके कारण वे महीनों से परेशान थे।

ग्रलफ्रेंड को बाइक पर घुमाता शादाब
ग्रलफ्रेंड को बाइक पर घुमाता शादाब

दो महीने पहले शादाब ने स्पोर्ट्स बाइक खरीदी थी। बाइक खरीदने के बाद सबसे पहले वह अपनी गर्लफ्रेंड को बाइक पर सैर कराने ले गया। फैंसी हेलमेट लगा कर जब वह अपनी कॉलोनी से निकला तो पूरी कॉलोनी वाले फटी आँखों से उसकी बाइक को देखते रह गये। फिर उसने अपनी गर्लफ्रेंड को पिक किया और पूरे हैदराबाद की सैर कराई। गर्लफ्रेंड की ज़िद पर वह उसे बेगम बाज़ार ले गया। बेगम बाजार में पड़ोस की शाज़िया आंटी भी शॉपिंग कर रही थी। शादाब की बाइक देखते ही वह पहचान गईं और टकटकी लगाकर देखने लगीं की शादाब यहाँ किसके साथ आया है। तभी देखा तो मिनी स्कर्ट में एक लड़की शादाब की बाइक पर बैठी और शादाब फुर्र से निकल गया। शादाब के घर पहुँचने से पहले उसकी गर्लफ्रेंड की खबर उस तक पहुँच गई। घर जाकर जो हाल हुआ वह शब्दों में बयान करना मुश्किल है।

बाइक भी हाथ से गई और गर्लफ्रेंड भी। कुछ समय बाद जब मामला ठंडा हुआ तब घरवालों ने शादाब को बाइक वापस कर दी। जब ऊबर मोटो लाँच हुआ तो शादाब ने कहा कि “मैं कल से काम पर जाऊँगा, ऊबर ड्राइवर्स की कमाई इंजीनियर्स से भी ज्यादा है अब मैं भी ऊबर ड्राइवर बनूँगा।” इस फैसले से हैरान शादाब के दोस्त ने उससे इसका कारण पूछा। शादाब ने जवाब दिया कि “ड्राइवर बना तो किसी भी लड़की को आराम से घुमा सकूँगा और बाकी समय में कुछ एक्सट्रा पैसे भी आ जाएंगे।” शादाब के इस आइडिया को सुनकर अब उसके दोस्त भी ड्राइवर बनने का सोच रहे हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें