Sunday, 19th November, 2017

चलते चलते

केजरीवाल, एलजी और बीजेपी ने बताए दिल्ली के स्मॉग के 3 दिलचस्प कारण

12, Nov 2017 By khakshar

दिल्ली-एनसीआर. देश की राजधानी और आस-पास के इलाक़े में छाए स्मॉग (धुंध) के घने बादल अब थोड़े हल्के हो गए हैं। इस स्मॉग के लिए तरह-तरह की वजहें बताई जा रही हैं, जिनमें से एक है- तंदूर का इस्तेमाल! “पिछले साल के मुक़ाबले इस साल दिल्ली-एनसीआर में मुर्गे और रोटी की ख़पत काफ़ी बढ़ गई है। जो हमारे पर्यावरण पर दोहरी मार है।” -दिल्ली के खाद्य-आपूर्ति OSD ने बताया।

smog-delhi-ncr2
दिल्ली पर छाई काहिली की धुंध

सूत्रों के हवाले से पता चला है कि तंदूर के अलावा, प्रदूषण के कुछ और कारणों की चर्चा भी सरकारी मीटिंग में हुई। हालांकि, इन सारे कारणों पर मुख्यमंत्री केजरीवाल और लेफ्टिनेंट गवर्नर एकमत नहीं थे। फ़ेकिंग न्यूज़ ने इन कारणों को जन-हित और जन-स्वास्थ्य के लिए उजागर किया है-

1. मुख्यमंत्री का मानना था कि स्मॉग के लिए मोदी जी ही जिम्मेदार हैं। वो बार-बार नोटबंदी के एक साल और बढ़ते प्रदूषण को आपस में जोड़ रहे थे। दिल्ली के बाईस OSD में से एक ने केजरीवाल जी की हाँ में हाँ मिलाते हुए कहा कि दिल्ली को भगवान ने नोटबंदी के पाप की सज़ा दी है।

2.विधानसभा में विपक्ष के एक नेता ने बिल्कुल अलग ही कारण बताया। उन्होंने पॉल्यूशन को पहले चोरी हुई वैगन-आर और फिर ‘आप’ के दफ़्तर में हुई चोरी से जोड़ते हुए कहा कि “मुख्यमंत्री ने ज़रूर कुछ मोटा माल छिपाया है। चोर इनके छुपाये हुए माल को लूटने के लिए ही ये सारा धुआँ कर रहे हैं और भुगत रही है दिल्ली!”

3. इस सबमें लेफ्टिनेंट गवर्नर का कार्यालय भी क्यों पीछे रहता भला! लेफ्टिनेंट गवर्नर के सचिव ने मीटिंग में मोदी सरकार के एक मंत्री का संदेश पढ़ डाला। पत्र में केंद्रीय मंत्री ने स्मॉग को पड़ोसी दुश्मन देश की साज़िश बता दिया। उन्होंने लिखा कि “स्मॉग की आड़ में दुश्मन देश आतंकवादियों को हमारे देश में घुसा रहा है। वो अपने इलाके में पराली जला रहा हैं, ताकि खूब स्मॉग फैले। इस साज़िश का पता हमें हरे रंग के स्मॉग से लगा है। हमारे रक्षा मंत्रालय ने दुश्मन देश को चेतावनी दे दी है। हमारे पास उनके इस पॉल्यूशन को रोकने का उपाय है और वो है- दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक!”



ऐसी अन्य ख़बरें